धार्मिक आस्था से ऐसा खिलवाड़ पहले कभी नहीं हुआ: अखिलेश यादव

सपा अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा सरकार ने आम लोगों की श्रद्धा व आस्था से जैसा खिलवाड़ किया है, वैसा पहले कभी नहीं हुआ।

जन्माष्टमी के पर्व पर भाजपा सरकार ने लाखों उपभोक्ताओं के घरों में अंधेरा कर दिया।

अखिलेश यादव ने कहा कि सबका साथ-सबका विश्वास का नारा देने वाली भाजपा ने खुद ही इसे बेमानी बना दिया है। उसके काम और मंशा से जाहिर है कि जनता की तकलीफों की उसे फिक्र नहीं है।

उन्होंने बताया कि 12 अगस्त को लखनऊ, प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी, मुख्यमंत्री के गृह जनपद गोरखपुर, मेरठ, प्रयागराज, मथुरा सहारनपुर, फिरोजाबाद, अलीगढ़ व बरेली तक में उपभोक्ता बिना बिजली परेशान रहे।

इन जिलों में बुधवार दोपहर लगभग 3 बजे बिजली आपूर्ति बंद हो गई और देर रात तक भी स्थिति सामान्य नहीं हो सकी।

बीजेपी कल गहलोत सरकार के खिलाफ लाएगी अविश्वास प्रस्ताव

ऊर्जा मंत्री, उपमुख्यमंत्री, तक के इलाके भी अंधेरे में डूबे रहे। साथ ही अखिलेश यादव ने कहा, राजधानी में विधायक निवासों में भी बिजली बाधित रही।

दरअसल, भाजपा सरकार ने विद्युत स्थिति में सुधार के लिए कोई रुचि नहीं ली। सपा सरकार में बनी बिजली घरों से ही आपूर्ति हो रही है। वहीं, अंडरग्राउंड केबलिंग का काम भी भाजपा राज में अवरुद्ध है।

तेजी से दौड़ रहे इन मीटरों के जरिये उपभोक्ताओं से लूट की भरपाई सरकार करें

अखिलेश यादव ने कहा कि जो स्मार्ट मीटर लगे हैं, उनकी गुणवत्ता पर संदेह है। इस संबंध में सीएम तक शिकायतें पहुंची, लेकिन अब तक कोई कार्यवाही नहीं हुई।

कांग्रेस प्रवक्ता राजीव त्यागी का हार्ट अटैक से निधन, राहुल ने क्‍या कहा

जांच में सच्चाई का पता चल जाएगा। स्मार्ट मीटर के नाम पर हुए घोटाले की भी जांच होनी चाहिए।

उन्होंने स्मार्ट मीटर तुरंत हटवाने की मांग की। साथ ही कहा, तेजी से दौड़ रहे इन मीटरों के जरिये उपभोक्ताओं से लूट की भरपाई सरकार करें।

उपभोक्ताओं के छह माह के के बिजली के बिल माफ  किए जाए। किसानों के ट्यूबवेलों से मीटर हटाकर पहले की तरह ही व्यवस्था बहाल की जाए।