भारती एक्सा का अधिग्रहण करेगी ICICI लोम्बार्ड

नई दिल्ली. ICICI लोम्बार्ड जनरल इंश्योरेंस ने भारती एंटरप्राइजेज प्रवर्तित भारती एक्सा जनरल इंश्योरेंस के अधिग्रहण के लिए पक्का करार किया है।

यह पूर्णत: शेयरों की अदला-बदली का सौदा होगा। इसे बीमा क्षेत्र का एक बड़ा एकीकरण कहा जा रहा है। प्रस्तावित 4,500 करोड़ रुपये के सौदे से ICICI लोम्बार्ड जनरल इंश्योरेंस साधारण बीमा या गैर-जीवन बीमा क्षेत्र की तीसरी सबसे बड़ी कंपनी बन जाएगी।

भारती एंटरप्राइजेज के पास फिलहाल भारती एक्सा जनरल इंश्योरेंस की 51 प्रतिशत हिस्सेदारी है। शेष 49 प्रतिशत हिस्सेदारी फ्रांसीसी बीमा कंपनी एक्सा के पास है।

ICICI बैंक प्रवर्तित साधारण बीमा कंपनी ने शुक्रवार रात को शेयर बाजारों को भेजी सूचना में कहा कि ICICI लोम्बार्ड जनरल इंश्योरेंस के निदेशक मंडल की 21 अगस्त को हुई बैठक में भारती एक्सा जनरल इंश्योरेंस (विघटित कंपनी) तथा उनके संबंधित शेयरधारकों और ऋणदाताओं के बीच लेन-देन ‘व्यवस्था को मंजूरी दी गई।

दूध के दाम घटाए जाने से पशुपालकों का संकट और बढ़ा : सचिन यादव

विभाजन के बाद भारती एंटरप्राइजेज और एक्सा दोनों साधारण बीमा कारोबार से बाहर निकल जाएंगी तथा भारती एक्सा जनरल इंश्योरेंस का काम समाप्त हो जाएगा।

इस अधिग्रहण के बाद सामूहिक आधार पर सालाना प्रीमियम बढ़कर 16,447 करोड़ रुपये पर पहुंच जाएगा और बाजार हिस्सेदारी करीब 8.7 प्रतिशत रहेगी।

भारतीय बीमा नियामक एवं विकास प्राधिकरण (इरडा) के ताजा आंकड़ों के अनुसार जुलाई में ICICI लोम्बार्ड ने 1,089.07 करोड़ रुपये का प्रीमियम जुटाया। वहीं भारती एक्सा जनरल का प्रीमियम संग्रह 276.78 करोड़ रुपये रहा।

सेंसेक्स 300 अंक उछला, निफ्टी ने हासिल की 100 अंकों की बढ़त

भारती एक्सा के 115 शेयरों पर ICICI लोम्बार्ड के दो शेयर

ICICI लोम्बार्ड और भारती एक्सा ने संयुक्त बयान में कहा कि इस सौदे के तहत भारती एक्सा के शेयरधारकों को कंपनी के प्रत्येक 115 शेयरों पर ICICI लोम्बार्ड के दो शेयर मिलेंगे। शेयर आदान-प्रदान अनुपात की सिफारिश स्वतंत्र मूल्यांककों ने की है। दोनों कंपनियों के बोर्ड ने इसे मंजूरी दी है।

करार की शर्तों के तहत भारती और एक्सा को ICICI लोम्बार्ड के कुल 3.5 करोड़ शेयर मिलेंगे। मौजूदा बाजार मूल्य के हिसाब से यह करीब 4,600 करोड़ रुपये बैठता है।बीएसई में ICICI लोम्बार्ड का शेयर शुक्रवार को 0.27 प्रतिशत के नुकसान से 1,294.80 रुपये पर बंद हुआ।

फिलहाल ICICI लोम्बार्ड में ICICI बैंक लि.की 51.89 प्रतिशत हिस्सेदारी है। शेष हिस्सेदारी सार्वजनिक है। प्रस्तावित सौदे के बाद प्रवर्तक की हिस्सेदारी घटकर 48.11 प्रतिशत रह जाएगी।