दमोह में मासूम के साथ दुष्कर्म के बाद फोड़ी आंख, फिर बांधकर फेंक दिया

जबेरा थाना अंतर्गत एक गांव में 7 वर्षीय मासूम के अपहरण के बाद दुष्कर्म की वारदात सामने आई है। आरोपितों ने मासूम की आंख फोड़ने भी फोड़ दी, इसके बाद हाथ-पैर बांधकर उसे जर्जर मकान में फेक दिया। गुरवार सुबह, स्थानीय लोगों ने जब बच्ची को देखा तो तत्काल पुलिस को दी सूचना। मासूम को गंभीर स्तिथि में जबेरा से जबलपुर रेफर किया गया है।

वहीं घटना की गंभीरता को देखते हुए एसपी हेमंत चौहान भी गांव पहुंच गए और जबेरा पुलिस के साथ घटना स्थल का निरीक्षण किया। बच्ची के परिजनों का कहना है कि बुधवार शाम 5 बजे से घर से खेलते हुए वह गायब हो गई थी। उसे रात 12 बजे तक पूरे गांव में खोजा, लेकिन जब वह नहीं मिली तो पुलिस को सूचना दी। गुरुवार सुबह उनके मकान से 50 मीटर दूर एक जर्जर मकान के अंदर उसे किसी बच्चे ने देखा।

उसके हाथ-पैर बंधे हुए थे। उसकी आंख से खून निकल रहा था, जिसकी सूचना परिजनों को दी गई। बच्ची को हिलाया तो वह मां को पुकारने लगी। तत्काल पुलिस को सूचना देकर बच्ची को जबेरा लाया गया। जबेरा विधायक धर्मेंद्र सिंह भी मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है और पता लगाया जा रहा है कि बच्ची के साथ ओर कौन-कौन से दूसरे बच्चे खेल रहे थे।