कुश्ती चैम्पियनों की चचेरी बहन रितिका ने की आत्महत्या

हार बर्दाश्त नहीं कर पाई: डीएसपी

लखनऊ।
 कुश्ती में विश्व में नाम रोशन करने वाली जोड़ी गीता और बबीता फोगाट की 17 वर्षीया चचेरी बहन रितिका फोगाट ने राजस्थान में एक कुश्ती टूर्नामेंट में हार का सामना करने के बाद कथित रूप से आत्महत्या कर ली। रितिका की आत्महत्या ने परिवार को स्तब्ध कर दिया है। बता दें कि वह 14 मार्च को टूर्नामेंट के फाइनल में हार गई थी।


महावीर से रितिका ने भी लिया प्रशिक्षण

चरखी दादरी के डीएसपी राम सिंह बिश्नोई ने गुरुवार सुबह एक समाचार एजेंसी को बताया कि, ‘बबिता फोगट की पहलवान और चचेरी बहन रितिका की 17 मार्च को कथित तौर पर आत्महत्या से मौत हो गई थी। इसके पीछे कारण राजस्थान में हाल ही में कुश्ती टूर्नामेंट में उसकी हार हो सकती है।’ रितिका ने राज्य स्तरीय सब-जूनियर, जूनियर महिला और पुरुष कुश्ती टूर्नामेंट में भाग लिया। उन्होंने महावीर सिंह फोगाट के तहत प्रशिक्षण लिया था। जिन्होंने गीता और बबीता फोगाट को भी प्रशिक्षित किया। एक रिपोर्ट के अनुसार, वह उस टूर्नामेंट में भी मौजूद थे, जिसमें रितिका भाग ले रही थी।


दोनों बहनों ने जीता स्वर्ण 

गीता फोगाट ने वर्ष 2010 में राष्ट्रमंडल खेलों में कुश्ती में भारत का पहला स्वर्ण पदक जीता था। इस बीच, बबीता ने 2014 में ग्लासगो में सीडब्ल्यूजी के अगले संस्करण में अपनी बहन के पराक्रम को दोहराया। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया में गोल्ड कोस्ट में 2018 सीडब्ल्यूजी में रजत पदक भी जीता।

Leave a Reply

Your email address will not be published.