दिल्ली को पैरिस बनाएंगे, लेकिन बारिश के बाद !

This monsoon, more rain pain for Delhi - The Hindu

नई दिल्ली। कभी दिल्ली को पैरिस तो कभी विश्व पटल पर अपनी अलग पहचान बनाने का दावा करने वाली केजरीवाल सरकार की पोल हर एक बारिश धीरे-धीरे खोल रही है। दिल्ली एनसीआर में पिछले 24 घंटे में बादल जमकर बरसा लेकिन बरसते बादल के साथ ही दिल्ली की सड़कों पर जलजमाव, जाम और लोगों की अपनी मंजिल तक पहुंचने की जद्दोजहद ने दिल्ली सरकार के वादों को बेनकाब कर दिया।

केजरीवाल सरकार ने कई बार किए वादे

आदूनिक तकनीक से पानी निकाल देने वाले मिंटो ब्रिज पर भी पानी ही पानी है तो दिल्ली से लेकर गुरुग्राम तक जाम की स्थिति है, सिग्नेचर ब्रिज, सेक्टर 4, सेक्टर 20 इत्यादी सभी जगह जलजमाव की स्थिति है। आपको याद होगा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कई बार ऐसे वादे किए हैं कि दिल्ली को वो अंतराष्ट्रीय स्तर पर ले जाना चाहते हैं, सुविधाओं के अभाव को बिल्कुल खत्म करना चाहते हैं लेकिन ऐसा कहीं होता फिलहाल तो नजर नहीं आ रहा है और अगर ऐसा है तो फिर बारिश में सामने आई दिल्ली की इन तस्वीरों को कैसे देखा जाए।

एमसीडी चुनावों के लिए पार्टियां तैयार

दिल्ली सरकार को गलत ठहराया जाए तो भी शायद जायज़ न हो क्योंकि पिछली 3 बार से एमसीडी पर कायम भाजपा का भी इसमें योगदान है, हालांकि केवल इतना फर्क जरूर है कि एमसीडी पर कायम भाजपा दिल्ली को पैरिस बनाने का दावा नहीं कर रही है तो लोगों का गुस्सा एमसीडी और भाजपा के निगम पार्षदों पर थोड़ा कम है और आप के पार्षदों पर शायद थोड़ा ज्यादा है। बता दें कि जल्द ही एमसीडी के इलेक्शन हैं और दिल्ली में पार्टियां भी कमर कस चुकी हैं लेकिन यह देखना होगा कि वोट काम के नाम पर मिलेगा या फिर पार्टी के नाम पर।

Leave a Reply

Your email address will not be published.