भारत के खिलाफ सीरीज से पहले क्‍यों परेशान हैं मिचेल स्टार्क

मेलबर्न: ऑस्ट्रेलिया के अनुभवी तेज गेंदबाज मिचेल स्टार्क भी अब उन क्रिकटरों में शामिल हो गए हैं, जिन्होंने बायो-बबल को लेकर अपनी चिंता व्यक्त की है.

स्टार्क का कहना है कि कोविड-19 महामारी के बीच क्रिकेट सीरीज खेलना ‘लंबे समय तक चलने वाली नहीं’ है.” स्टार्क आईपीएल-13 का हिस्सा नहीं थे.

क्रिकेट डॉट कॉम डॉट एयू ने स्टार्क के हवाले से कहा, “ये लंबे वक्त तक चलने वाली जीवनशैली नहीं है. आप होटल के कमरे में रह रहे हैं और बाहरी दुनिया से कोई संपर्क नहीं है.

कई खिलाड़ियों ने अपने परिवारों या अपने बच्चों को लंबे समय तक नहीं देखा है, आईपीएल में खेलने वालों के साथ ऐसा है.”

उन्होंने कहा, “यह मुश्किल स्थिति है. हमें क्रिकेट खेलने को मिल रहा है इसलिए हम इसकी शिकायत नहीं कर सकते, लेकिन खिलाड़ियों, स्टाफ और अधिकारियों की भलाई के लिए आप कब तक बायो बबल में रह सकते हो?

भारत को इस महीने के आखिर में ऑस्ट्रेलिया का दौरा करना है. भारत और ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ी इस समय यूएई में आईपीएल-13 में विभिन्न टीमों के लिए खेल रहे हैं.

जब वे अपने देश के टीमों की ओर से खेलेंगे तो उन्हें फिर से बायो बबल में माहौल में रहना होगा.

इससे पहले, भारतीय कप्तान विराट कोहली, इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन और वेस्टइंडीज के कप्तान जेसन होल्डर भी बायो बबल को लेकर अपनी चिंता जता चुके हैं.