पीएम मोदी, राष्ट्रपति कोविंद को ट्विटर पर अनफॉलो करने पर व्हाइट हाउस ने दी सफाई, कही ये बात

व्हाइट हाउस ने बुधवार को बताया कि उसका ट्विटर हैंडल आमतौर पर राष्ट्रपति की यात्रा के दौरान थोड़े समय के लिए मेजबान देशों के अधिकारियों के एकाउंट को यात्रा के समर्थन में उनके संदेशों को रीट्वीट करने के लिए ‘फॉलो’ करता है। व्हाइट हाउस की तरफ से यह बयान ऐसे समय में जारी किया गया है, जब एक दिन पहले ही पीएम मोदी, राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद सहित 6 एकाउंट को अन-फॉलो कर दिया गया था।

व्हाइट हाउस की तरफ से बताया गया कि फरवरी के अंतिम सप्ताह में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की भारत यात्रा के दौरान, व्हाइट हाउस के आधिकारिक ट्विटर हैंडल – @WhiteHouse – ने राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी, पीएमओ, अमेरिका में भारतीय दूतावास, भारत में अमेरिकी दूतावास और भारत में अमेरिकी राजदूत केन जस्टर के एकाउंट को फॉलो करना शुरू किया था। इस हफ्ते की शुरुआत में व्हाइट हाउस ने इन सभी छह ट्विटर हैंडल को “अनफॉलो” कर दिया।

प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम न छापने के अनुरोध पर बताया कि व्हाइट हाउस का ट्विटर अकाउंट आमतौर पर अमेरिकी सरकार के वरिष्ठ नेताओं के ट्विटर अकाउंट और अन्य जो लोग उपयुक्त हों, उन्हें फॉलो करता है। उदाहरण के लिए, राष्ट्रपति की यात्रा के समय एकाउंट आमतौर पर थोड़े समय के लिए चलता है, ताकि मेजबान देश के अधिकारी यात्रा के समर्थन में उनके संदेशों को री-ट्वीट कर सकें।