आईना जब भी उठाया करो, पहले देखा करो फिर दिखाया करो’, यूपी वित्त मंत्री का विपक्ष को जवाब

आईना जब भी उठाया करो, पहले देखा करो फिर दिखाया करो’, यूपी वित्त मंत्री का विपक्ष को जवाब

लखनऊ। पेट्रोल और डीजल के बढ़ती कीमतों को लेकर अब कांग्रेस और बीजेपी का पलटवार शुरू हो गया है. शुक्रवार को हुए कांग्रेस के धरना प्रदर्शन के साथ केंद्र व् राज्य सरकार पर कमेंट का जवाब उत्तर प्रदेश के वित्त मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने दिया है।

कांग्रेस को गिरेबान में झांकने की नसीहत
यूपी वित्त मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने विपक्ष को आयना दिखाने के साथ उन्हें अपने गिरेबान में झांकने की नसीहत दी. उन्होंने कहा है कि धरना प्रदर्शन करने वालों को यह देखना चाहिए की गैर भाजपा शासित राज्यों की तुलना में उत्तर प्रदेश में पेट्रोल और डीजल पर लगाए गए वैट व सेस की दर सबसे कम है।

UP से ज्यादा कांग्रेस राज्य में पेट्रोल के दाम
कांग्रेस शासित प्रदेशो में यूपी से कहीं ज्यादा पेट्रोल के दाम है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस पहले खुद के राज्यों को देखे फिर यूपी की बात करें। इसके साथ ही मंत्री ने कांग्रेस राज्य में पेट्रोल-डीजल के दाम भी बताये. मंत्री ने कहा, यूपी में जहां पेट्रोल की कीमत 92.9 व डीजल के दाम 86.11 रुपये प्रति लीटर है। तो वहीं राजस्थान में 101.36 डीजल 94.55 रुपये प्रति लीटर है। आन्ध्र प्रदेश में यह कीमत क्रमसः 100 व 94.57 रुपये प्रति लीटर है।

ट्वीट में विपक्ष को दिखाया आयना
वित्त मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने ये पलटवार ट्वीट के जरिये किये है. अपने एक ट्वीट में उन्होंने लिखा कि ‘आईना जब भी उठाया करो, पहले देखा करो फिर दिखाया करो’। बिना तथ्यों को समझे दैनिक जीवन की सामान्य गतिविधियों में बाधा पहुंचाना ठीक नहीं है।

कांग्रेस का प्रदर्शन
कांग्रेस के आह्वान पर पेट्रोल-डीजल के बढ़ रहे दाम के विरोध में भाजपा सरकार के खिलाफ शुक्रवार को प्रदेश भर में विरोध प्रदर्शन किया। हालाँकि बीजेपी सरकार वाले प्रदेश में प्रदर्शन करने से रोक दिया गया. कांग्रेस कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया। लखनऊ में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को प्रदर्शन से पहले ही हाउस अरेस्ट कर लिया गया। वहीँ मध्य प्रदेश में शिवराज के काफिले के सामने सुनियोजित कांग्रेस के प्लान के साथ प्रदर्शन करने जा रहे कार्यकर्ताओं गिरफ्तार कर लिया गया था. जिसके बाद कांग्रेस नेताओं ने कहा था कि सरकार लाख कोशिश करें हम आंदोलन करेंगे.

Leave a Reply