भारत में कोरोना से बचने को टीकाकरण ही एकमात्र रास्ता: फाउची

नई दिल्ली। बीते रविवार को अमेरिका के स्वास्थ्य विशेषज्ञ डॉ एंथनी फाउची ने बताया कि कोरोना का जो भारत मे संकट चल रहा है उससे उबरने के लिए लोगों का टीकाकरण करना ही एकमात्र रास्ता है। उन्होंने इस महामारी से निपटने के लिए घरेलू एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कोविड-रोधी टीके के उत्पादन को बढ़ाने पर भी जोर दिया।

देशों को भारत की मदद करनी चाहिए

उन्होंने कहा कि भारत में यह महामारी काफी तेजी से फैल रही है और इस समय अन्य देशों को भारत की मदद के लिए आगे आना चाहिए। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के प्रमुख चिकित्सा सलाहकार फाउची ने एक इंटरव्यू में कहा, ” इस महामारी का पूरी तरह से खात्मा करने के लिए लोगों का टीकाकरण किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि भारत, दुनिया का सबसे बड़ा वैक्सीन निर्माता देश है। जिसे न केवल भीतर से, बल्कि बाहर से भी अपने संसाधन मिल रहे हैं।”

तत्काल अस्थायी अस्पताल बनाने की जरूरत

उन्होंने कहा, ”यही कारण है कि अन्य देशों को या तो भारत को उनके यहां टीका निर्माण में सहायता देनी चाहिए या टीके दान करने चाहिए।”
डॉ. फाउची ने कहा कि “भारत को तत्काल अस्थायी अस्पताल बनाने की जरूरत है, जैसा करीब एक साल पहले चीन ने किया था।”

देशव्यापी लॉकडाउन की जरूरत

फाउची ने आगे कहा कि “वायरस के प्रसार की रोकथाम के लिए देशव्यापी लॉकडाउन की जरूरत पर भी जोर दिया जाना चाहिए। वायरस की चेन तोड़ने के लिए लॉकडाउन लगाना जरूरी है।”

Leave a Reply