मोस्टवांटेड चीता सहित दो तस्कर गिरफ्तार

पंजाब की अमृतसर पुलिस, एनआइए और हरियाणा पुलिस की ज्वाइंट टीम ने शनिवार सुबह सिरसा के बेेेेगू रोड स्थित एक घर में रेड मारी । घर से देश के बड़़े़े नशा तस्कर रंजीत सिंह उर्फ चीता व उसके भाई गगन को पकड़ा गया है। चीता हेरोइन तस्करी के मामले में मोस्टवांटेड था। पुलिस इनके गैंगस्टरोंं से भी जुड़े होने का संदेह जता रही है। उनसे पूछताछ की जा रही है।

बताया जा रहा है कि दोनों यहां किरायेदार के रूप में रह रहे थे। यह कार्रवाई 532 किलोग्राम हेरोइन के मामले में हुई है। नशा तस्कर रंजीत सिंह उर्फ चीतादेश के बड़े नशा तस्करों में शामिल है। इनके पकड़े जाने के बाद पुलिस को नशा तस्करी के बड़े गिरोह के भंडाफोड़ होने की उम्मीद है।

सूत्रों के मुताबिक इन नशा तस्करों के आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन से भी संबंध हो सकते हैं। पुलिस पूछताछ में इस संबंध में बड़ा खुलासा हो सकता है। बता दें, हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकी हिलाल अहमद वागे के दो और साथियों जसवंत सिंह व रंजीत सिंह को थाना सदर पुलिस ने शुक्रवार दोपहर गुरदासपुर से गिरफ्तार किया था। दोनों आरोपितों के मोबाइल नंबर हिलाल व इससे पहले पकड़े गए विक्रम सिंह उर्फ विक्की और मनिंदर सिंह उर्फ मनी के मोबाइल से मिले थे।

जांच में सामने आया है कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा का हिलाल अपने आका रियाज अहमद नायकू के इशारे पर पंजाब में नशा तस्करों के संपर्क में था। पाकिस्तान से आने वाली हेरोइन और हथियारों की खेप ठिकाने लगाने के बाद उनकी पेमेंट अपने संगठन तक पहुंचाता था। रंजीत सिंह छह भाई हैं। तीन पहले ही जेल में है। रंजीत टेररिस्ट फंडिंग का काम करता था।