मानसून में घुमने की भारत की ये 10 जगहें है बेहद खूबसूरत

भारत में ऐसी कई खूबसूरा जगहें हैं जहां मानसून के दिनों में मौसम बेहद खुशनुमा रहता है यकीन मानिए यहां की बरसात में बिताए यादगार पलों को आप जीवन भर नहीं भूल पाएंगे हम आपको देश की उन 10 जगहों के बारे में बताते हैं जहां सबसे खूबसूरत बारिश होती है।

लोनावाला

मुंबई-पुणे राजमार्ग पर स्थित लोनावाला भी एक बेहद ही शानदार पर्यटक स्थल हैं। पहाड़ों और झरनों के बीच बसे इस पर्यटन स्थल के मनोरम दृश्य हर किसी का भी मन मोह लेते हैं। जून से लेकर सितंबर तक यहां टूरिस्‍टों की लाइन लगी रहती है। और मानसून के दौरान यहां चारों ओर हरियाली ही हरियाली छा जाती है। बारिश के मौसम में यह जगह किसी जन्न्त से कम नही है। यहां की बारिश का मजा लेना पर्यटकों के लिए सबसे यादगार साबित होता है। तो इस सीजन लोनावला की सैर कर लीजिए।

मालशेज घाट

महाराष्ट्र में पुणे से करीब 138 किमी और मुंबई से करीब 127 किमी दूर मालशेज घाट भी बरसात मे पर्यटकों का जमावड़ा लगा रहता है। यह घाट महाराष्ट्र के पुणे जिले के पश्चिमी घाटों की श्रेणी में स्थित एक प्रसिद्ध घाट है। मालशेज घाट अपनी अनगिनत झीलों, चट्टानी पर्वतों औऱ कई मशहूर किले के लिए जाना जाता है। और यह बारिश में सैलानियों से भरा रहता है।

पंचगनी

पंचगनी मानसून में घूमने की सबसे अच्छी जगहों में से एक है। पंचगनी की यात्रा वैसे तो आप साल में कभी भी कर सकते हैं लेकिन मानसून के समय ये जग़ह बेहद खूबसूरत हो जाती है। पंचगनी 1334 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है, यहाँ का वातावरण बेहद हरा-भरा दिखाई देता है। प्रकृति प्रेमी और पर्यटकों के लिए पंचगनी किसी स्वर्ग से कम नही मानसून के मौसम में पंचगनी की यात्रा करना आपको एक यादगार अनुभव प्रदान करेगा अगर आप भी मानसून के मौसम का लुफ़्त उठना चाहते है

चेरापुंजी

पूरी दुनियां में सबसे ज्यादा बारिश के लिए मशहूर है मेघालय में स्थित चेरापूंजी । बारिश का मजा लेने के लिए एक खूबसूरत जगह हैं दुनिया की यह एक ऐसी जगह है जहाँ साल भर बारिश देखने को मिलती है आपको को बता दे कि, चेरापूंजी मेघालय की राजधानी शिलांग से 53 किमी दूर हैं । बारिश के मौसम में चेरापूंजी में घूमते समय हम बादलों को अपने आस-पास ही महसूस कर सकते है।

मासिनराम

मेघालय की खासी पहाड़ी में बसा मॉसिनराम खूबसूरती के साथ-साथ यहां होने वाली बारिश के लिए मशहूर है । मॉनसून के दौरान मॉसिनराम में 11872 mm रिकॉर्ड बारिश दर्ज होती है। यह देश में ही नहीं बल्कि दुनिया में सबसे ज्यादा है। खूबसूरत वादियों और बारिश के अलावा मॉसमी गुफा, मॉसमी झरना, नोहकालीकाई झरना जैसी जगह भी प्रमुख आकर्षण हैं। मानूसन और चाय के शौकीनों के लिए हर दिन जन्नत से कम नही है ये जगह।

महाबलेश्वर

वेस्टर्न घाट में स्थित महाबलेश्वर महाराष्ट्र का सबसे फेमस हिल स्टेशन है यह हिल स्टेशन महाराष्ट्र और आसपास के राज्यों में रहने वाले लोगों के बीच हरियाली, खूबसूरत पहाड़, झरने, स्ट्रॉबेरी की खेती और अपनी प्राकृतिक सुंदरता के लिए मशहूर है। समुद्र तल से करीब 1372 मीटर की ऊंचाई पर स्थित महाबलेश्वर ब्रिटिशों के शासन काल में बॉम्बे प्रेसीडेंसी की ग्रीष्मकालीन राजधानी हुआ करती थी। यहां की हरियाली और मनमोहक नजारे पहाड़ियों से गिरते झरने और हरी-भरी वादियां आपका मन मोह लेंगी। औऱ ये पर्यटकों को खासा आकर्षित करते हैं, लेकिन बारिश के मौसम में यहां वेकेशन मनाने का आनंद ही कुछ और है, क्योंकि मानसून में इसकी सुंदरता में चार चांद लग जाते हैं।

धर्मशाला

धर्मशाला हिमाचल प्रदेश राज्य के कांगड़ा जिले में स्थित एक बहुत ही सुंदर पर्यटन स्थल है जहाँ पर्यटक मानसून के मौसम में घूम कर अपनी यात्रा का पूरा मजा ले सकते हैं। मानसून के मौसममें घूमने के लिए धर्मशाला एक परफेक्ट जगह है। यहां पर पर्यटक जंगलों और पहाड़ों के साथ मानसून का पूरा मजा लिया जा सकता है।

माउंट आबू

राजस्थान का एक मात्र हिल स्टेशन है माउंट आबू जो देशभर में बेहद लोकप्रिय है। मानसून के मौसम में माउंट आबू बेहद आकर्षक लगता है, जब आकाश में बादल छा जाते हैं। माउंट आबू उन लोगों के लिए सही विकल्प है जो प्रकृति, आध्यात्मिकता और रोमांच की एक परिपूर्ण जगह की तलाश में हैं। अगर आप एक प्रकृति प्रेमी हैं तो आपको मानसून के दौरान माउंट आबू की यात्रा जीवन मे एक बार जरुर करनी चाहिए।

गोवा

गोवा भारत में मानसून में घूमने के लिए एक अच्छी जगह है। गोवा समुद्र तटों की भूमि है जो मानसून के दौरान रेत, रिमझिम मानसून और सुरम्य दृश्यों का आनंद लेने के लिए परफेक्ट जगह है। गोवा मानसून में भीगने के लिए अच्छी जगह है, इसके साथ आप च्छे व्यंजनों का स्वाद भी ले सकते हैं। बारिश के मौसम में यहाँ की हरियाली आप का मन मोह लेगी ।

मुन्नार

चाय के बागानों और मसालों के लिए प्रसिद्ध केरल के इडुकी जिले में स्थित मुन्नार पर्यटकों के लिए भी बेहद ही शानदार जगह हैं। आपको बता दे कि, मानसून में केरल की सुंदरता देखने लायक होती हैं। और बात करे मुन्नार कि तो, बारिश में मुनार ओर भी ज्यादा खूबसूरत हो जाता हैं। यहाँ के चारों तरफ फैली हरियाली सैलानियों की आखों को एक अद्भुत सुकून देती हैं। समुद्री स्थल से 1600 फिट की ऊंचाई पर स्थित मुन्नार के नज़ारे पर्यटकों के दिल को खुश कर देते हैं। मुन्नार में मधुरपुजहा, नल्‍लाथन्‍नी और कुंडाली ये तीन नदियाँ एक ही स्थान पर मिलती हैं।

Leave a Reply