देश को मिलेगी पहली महिला सिजेआई, केंद्र सरकार ने कॉलेजियम की ओर से भेजे सुझाव

केंद्र सरकार ने कॉलेजियम की ओर से भेजे गए 9 जजो में से एक महिला भारत की पहली महिला चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया भी बन सकती है।

जस्टिस नागारात्ना भारत की पहली महिला चीफ जस्टिस बन सकती हैं ,9 नामों पर  केंद्र की मुहर – The Lucknow Tribune

नई दिल्ली। कॉलेजियम की ओर से भेजे गए 9 जजों को केंद्र सरकार कि ओर से नियुक्ति मिल चुकी है। जिनमे तीन महिला भी शामिल है। इनमे से कोई एक महिला भारत की पहली महिला तीफ जस्टिस ऑफ इंडिया भी बन सकती है।

इनमे शामिल  कौन- कौन से नाम है

कॉलेजियम के जिन नामों की सिफारिश की है उनमे यह निमलिखित नाम शामिल है। कर्नाटक हाई कोर्ट की जस्टिस हिमा कोहली, गुजरात हाई कोर्ट की जस्टिस बेला त्रिवेदी के नाम शामिल हैं। इसके अलावा कर्नाटक हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस अभय श्रीनिवास ओका, गुजरात हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश विक्रम नाथ, केरल हाई कोर्ट के न्यायाधीश सीटी रवि कुमार आदि शामिल हैं।

एक पद रहता है फिर भी खाली

वर्तमान में कुल 24 न्यायाधीश है। जिसमे से नौ जजों को नियुक्ति मिल चुकी है लेकिन फिर भी एक पद खाली रहता है। कॉलेजियम के तरफ से आए सभी नौ नामों को मंजूरी मिल गयी है।

जस्टिस नागारात्ना देश की पहली महिला चीफ जस्टिस

ऐसी आशा की जा रही है कि जस्टिस नागारात्ना देश की पहली महिला चीफ जस्टिस बन सकती है। 25 सितंबर से अक्टूबर 2027 तक के लिए छोटे समयावधि के लिए यह पद वो सहमाल सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.