तेज प्रताप यादव ने इसी साल लगाई थी अगरबत्ती बनाने वाली कंपनी, कर्मचारी 71 हजार रुपये लेकर फरार

तेज प्रताप यादव

नई दिल्ली। तेज प्रताप यादव लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे जो कि बिहार की महुआ सीट से आरजेडी विधायक है। उन्होंने इसी साल जुलाई में अगरबत्ती बनाने वाली कंपनी शुरू की थी। जिसके एक साल के भीतर ही नेता तेज प्रताप यादव ने उनकी कंपनी के एक कर्मचारी पर 71 हजार रूपये लेकर फरार होने का दावा किया है।

तेज प्रताप यादव द्वारा लगाया गया आरोप

तेज प्रताप यादव ने अपनी ही कंपनी के कर्मचारी पर ठगी का आरोप लगाया है। तेज प्रताप यादव ने कहा कि कंपनी के खाते में 71 हजार रुपय आने थे, मगर आरोपी ने धोखाधड़ी से अपने खाते में मंगवा लिए। ठगी के मामले का पता लगते ही तेज प्रताप यादव की ओर से एसके पुरी थाने में शिकायत दर्ज कराई गयी।

मां-बाप के नाम से खोली थी कंपनी

2021 के जुलाई माह में ही तेज प्रताप यादव ने एलआर राधा कृष्ण अगरबत्ती कंपनी की शुरुवात अपने पिता लालू प्रसाद यादव और मां राबड़ी देवी के नाम से की थी। बताया जा रहा है कि इस कंपनी में बनने वाली अगरबत्ती मंदिर के बाहर फेंके जाने वाले फूलों से बनाई जाती हैं और किसी भी प्रकार का कैमिकल का प्रयोग नहीं किया जाता है।

तेज प्रताप यादव ने की पुलिस से कार्रवाई की मांग

तेज प्रताप यादव के दिये गये बयान के अनुसार आशीष रंजन उनकी कंपनी में मार्केटिंग का काम देखता था। 71 हजार रुपये जो कि कंपनी के खाते में आने थे, वे सभी आशीष रंजन धोखाधड़ी से अपने खाते में मंगवा कर फरार हो गया। इसकी जानकारी मिलते ही तेज प्रताप यादव ने मामले की तत्कालीन कार्रवाई की मांग की और आशीष रंजन के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया।

Leave a Reply