अप्रैल से बढ़ सकती हैं ताज के दीदार की दरें

भारतीय पर्यटकों के लिए 480 तो विदेशियों के लिए 1600 हो सकता है शुल्क


नई दिल्ली। 
अपनी खूबसूरती के लिए दुनियाभर में मशहूर ताजमहल का दीदार आने वाले समय में और महंगा हो सकता है। आगरा विकास प्राधिकरण ने ताजमहल के टिकट की दर बढ़ाने का प्रस्ताव सरकार को भेजा है। एडीए ने सरकार से 230 रुपए और 300 रुपए की वृद्धि की मांग की है।

भारतीय पर्यटकों को देने होंगे 480 रुपए


आगरा विकास प्राधिकरण द्वारा प्रेषित प्रस्ताव पर सरकार की मुहर लगती है, तो ताजमहल देखने के लिए भारतीय पर्यटकों को 480 रुपए और विदेशी पर्यटकों को 1600 रुपए चुकाने होंगे। यह वृद्धि एक अप्रैल से लागू होने की संभावना है।

अभी तक पड़ते थे 250 रुपए


वर्ष 2018 में भारतीय पुरातत्व विभाग ने टिकट दरों में बढ़ोत्तरी की थी। अभी तक ताजमहल देखने के लिए भारतीय पर्यटकों को 250 रुपए और विदेशी पर्यटकों को 1300 रुपए देने पड़ते हैं। इसमें एएसआई की तरफ से 200 रुपए चार्ज किए जाते हैं।

दाम बढ़े तो कम आयेंगे भारतीय


ताजमहल का दीदार करने पहुंचे भारतीय पर्यटक सौरभ मिश्रा ने कहा कि यदि कीमतें बढ़ती हैं, तो इससे भारतीय पर्यटकों को अपनी विरासत देखने में असुविधा होगी। हम मुख्य गुंबद को देखने के लिए पहले 50 रुपए का भुगतान करते थे और अब हमें 250 रुपये का भुगतान करना पड़ता है। अगर यह फिर से बढ़ जाता है, तो भारतीय पर्यटकों की संख्या में भारी कमी आ जाएगी।

मुख्य गुंबद का 200 रुपए चार्ज


आगरा मंडल के कमिश्नर अमित गुप्ता ने कहा, ‘आगरा विकास प्राधिकरण ने मुख्य गुंबद में प्रवेश करने के लिए 200 रुपए का शुल्क बढ़ाने का प्रस्ताव किया है, जो पहले से चार्ज किए गए 200 रुपए से अलग है।’ हालांकि, उन्होंने भी स्वीकार किया कि यदि दरें बढ़ती हैं तो भारतीय पर्यटकों को असुविधा हो सकती है।

Leave a Reply