लॉकडाउन के बाद स्कूल ऑन लाइन क्लास जारी

कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने के चलते पूरे देश को लॉक डाउन किया है। बच्चे बड़े सभी को घर के अंदर ही रहने के आदेश सरकार ने दिये हैं। सभी स्कूलों की छुट्टियां की गयी है। जिसके बाद न तो बच्चे और न ही टीचर्स, स्कूल नही आ रहे हैं। ऐसे में स्कूली बच्चो की पढ़ाई का एक बड़ा नुकसान हो रहा है। जिसके बाद गाजियाबाद में डीपीएसजी इंटरनेशनल स्कूल की एक नयी पहल सामने आयी है। जिसके जरिए बच्चो की पढ़ाई के हो रहे नुकसान की भरपाई की जा रही है। टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल जरिये इसे किया जा रहा है।

गाजियाबाद में एक स्कूल की चलती हुयी क्लास को आप तस्वीरों में देख रहे हैं। लेकिन चौकिए मत बच्चो की सेहत को इससे कोई खतरा नही है। क्योंकि स्कूल द्वारा चलायी जा रही यह क्लास ऑनलाइन चल रही हैं। और जहां इससे , स्कूलों के बन्द होने से बच्चो की पढ़ाई में नुकसान की भरपाई की जा रही है वही बच्चो को कोरोना के संक्रमण का कोई खतरा भी इससे नही है। गाजियाबाद के डीपीएसजी इंटरनेशनल स्कूल द्वारा स्कुलो के बन्द हो जाने के बाद ऑनलाइन क्लासीज ली जा रही है।

हालांकि बच्चे और टीचर्स सभी अपने अपने घरों में है। लेपटॉप और मोबाइल के जरिये पढ़ाई का यह शेषण चलाया जा रहा है। इन क्लासीज के जरिये बच्चो के सिलेबस के साथ साथ योगा, स्किल्स डेवलपमेंट और फाइन आर्ट्स, वेल्यू एजुकेशन जैसे बाते भी सिखाई जा रही है। टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल इस तरह किया जा रहा है। स्कूल की प्रधानाचार्या मीरा माथुर के अनुसार स्कूली बच्चो के पेरेंट्स भी पढ़ाई के लिए किए जा रहे इस प्रयास से बेहद खुश है और इसकी सराहना भी स्कूली बच्चो के पेरेंट्स द्वारा की जा रही है।

प्रधानाचार्य के अनुसार बच्चो को पानी की तरह होना चाहिये कि जिस चीज में ढालो उस चीज में ढल जाये। वही हमें हर सिथति का सामना करना चाहिए और एडजस्ट भी करना चाहिए। वही ऑनलाइन स्कूल की पढ़ाई कर रहे बच्चो का कहना है कि इससे उनकी मदद हो रही है और पढ़ाई का नुकसान भी इस तरह नही हो रहा है। साफ है कि एक अच्छी पहल यहां स्कूल ने की है जहां बच्चे लॉक डाउन का पालन करते हुए पढ़ाई कर पा रहे हैं साथ ही कोरोना संक्रमण का कोई खतरा भी यहां नही है।