लाल किला हिंसा: दिल्ली पुलिस के हत्थे चढ़े दो आरोपी

विदेश भागने की फिराक में थे मनिंदर और खेमप्रीत

नई दिल्ली। विशेष पुलिस आयुक्त ने लाल किले पर हुई घटना में शामिल दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों में मनिंदरजीत सिंह और खेमप्रीत सिंह को आईजीआई एयरपोर्ट से दिल्ली पुलिस के अपराध शाखा ने अपनी गिरफ्त में ले लिया है। यह दोनों विदेश भागने की फिराक में थे।

एक है डच नागरिक

आरोपियों में से एक मनिंदरजीत सिंह है, जो डच के नागरिक है और ब्रिटेन में बसे हुए हैं। जो भारत से बचकर भागने ही वाले थे। दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने उसे दिल्ली एयरपोर्ट से अपनी जब्त में ले लिया है। वहीं खेमप्रीत सिंह, जिसने पुलिसकर्मियों पर फर्सा से हमला किया था, उसे भी दिल्ली पुलिस ने पकड़ लिया है।

खेमप्रीत ने किया था भाले से हमला

न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, मनिंदर जीत एक आदतन अपराधी है और उसे दिल्ली हवाई अड्डे से गिरफ्तार किया गया है।  वह जाली यात्रा दस्तावेजों पर भारत से भागने की कोशिश कर रहा था। दिल्ली पुलिस ने बताया कि, आरोपी खेमप्रीत ने भाले के साथ लाल किले की दीवारों के अंदर ड्यूटी पर मौजूद पुलिसकर्मियों के साथ मारपीट की थी।

पंजाब में पड़े कई छापे

दिल्ली पुलिस ने यह भी बताया कि लाल किले में हुई घटना में आरोपी मनिंदरजीत सिंह भी शामिल था। पंजाब के कई स्थानों पर मनिंदर की तलाश और छापेमारी की थी, लेकिन वहां कुछ हाथ नही लगा।

क्या थी लाल किला हिंसा?

केंद्र सरकार की ओर से पारित किए गए तीन कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग को लेकर किसान 26 नवंबर से आंदोलन कर रहे है। इस आंदोलन को जारी रखते हुए किसानों ने 26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली की घोषणा की थी। यह रैली एक सामान्य रैली न रहकर दंगे में तब्दील हो गई। लाल किले पर हुए हमले में प्रदर्शनकारियों ने दिल्ली पुलिस और सुरक्षाबलों पर भी हमला किया और लाल किले पर धार्मिक झंडे भी फैराए। इस हिंसा में दिल्ली पुलिस ने कई आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही दिल्ली पुलिस अभी भी हिंसा की जांच में जुटी हुई है।

Leave a Reply