रानी अवंतीबाई ने गुलामी से मुक्त कराने में अंग्रेजो से जमकर टक्कर ली : योगी आदित्यनाथ

विरांगिनी रानी अवंतीबाई का बलिदान दिवस आज

लखनऊ। वीरांगना रानी अवंतीबाई का आज 163वां शहीदी दिवस है। इस अवसर पर भारतीय लोधी महासभा ने हर साल की तरह इस बार भी श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया है। रानी अवंतीबाई लोधी के बलिदान दिवस के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी पहुंचे।

शहीदी दिवस पर राष्ट्र का नमन

अवंतीबाई लोधी के शहीदी दिवस पर आज पूरा देश उन्हें नमन कर रहा है। लखनऊ में सीएम योगी ने हजरतगंज में रानी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उनको नमन किया। इस मौके पर कई मन्त्रीगण भी मौजूद रहें। उन्नाव के सांसद साक्षी महाराज के साथ पूर्व केंद्रीय मंत्री और एमपी की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती भी मौजूद रहीं। सीएम योगी ने भारत को वीरों की धरती बताया। यहां उन्होंने स्वतन्त्रता संग्राम में महिलाओं की भूमिका का जिक्र करते हुए कहा कि वीरांगनाओ ने भी आज़ादी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई, उन्ही के बलिदानों से हमें आज़ादी मिली। इन महान वीरांगनाओं को हम नमन करते हैं।

उत्तर प्रदेश पुलिस में 20 प्रतिशत पद महिलाओं के लिए

इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि यूपी सरकार मातृ शक्ति को हम नमन करने के साथ ही उनकी सुरक्षा, सम्मान और स्वाबलंबन के लिए एक विशेष कार्यक्रम मिशन शक्ति आरम्भ किया है। इस कार्यक्रम के तहत उत्तर प्रदेश पुलिस ने 20 प्रतिशत पद महिलाओं के लिए आरक्षित कर दिए हैं। इसके साथ ही योगी सरकार ने विशेष कार्यक्रम के अलावा महान वीरांगनाओ के नाम पर तीन बटालियन की भी शुरआत करने की घोषणा की।उन्होंने आगे कहा कि, हमारी सरकार तीन महिला पीएसी बटालियन की स्थापना झांसी की रानी, रानी अवंतीबाई लोधी और वीरांगना उदयदेवी के नाम पर कर रही है। इस बटालियन को योगी आदित्यनाथ ने उनके सम्मान का एक माध्यम बताया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.