रजनीकांत को मिलेगा दादा साहब फाल्के पुरस्कार

केन्द्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने की घोषणा

नई दिल्ली। साउथ फिल्मों के सुपरस्टार रजनीकांत को फिल्म जगत के सर्वश्रेष्ठ पुरस्कार दादा साहब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया जायेगा। इस बात की जानकारी केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने दी। श्री जावडेकर ने दादा साहब फाल्के पुरस्कार का गुरुवार को ऐलान किया।

पांच दशक से सिनेमा पर राज कर रहे रजनीकांत: जावडेकर

एक प्रेस वार्ता दौरान केन्द्रीय मंत्री श्री जावडेकर ने कहा कि, ‘हमें खुशी है कि देश के सभी भागों से फिल्मकार, अभिनेता, अभिनेत्री, गायक, संगीतकार सभी लोगों को समय-समय पर दादा साहब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। आज इस वर्ष का दादा साहब फाल्के एवार्ड महान नायक रजनीकांत को घोषित करते हुए हमें बहुत खुशी है। रजनीकांत बीते पांच दशक से सिनेमा की दुनिया पर राज कर रहे हैं और लोगों को मनोरंजन कर रहे हैं। यही कारण है कि इस वर्ष दादा साहब फाल्के की ज्यूरी ने रजनीकांत को यह एवार्ड देने का फैसला लिया है।

पांच लोगों की ज्यूरी ने लिया फैसला

बताते चलें कि इस वर्ष यह चुनाव 5 लोगों की ज्यूरी ने किया है। इस ज्यूरी में आशा भोंसले, मोहनलाल, विश्वजीत चटर्जी, शंकर महादेवन और सुभाष घई शामिल हैं। इन पांचों ने मिलकर एक राय से दादा साहब फाल्के पुरस्कार को रजनीकांत को देने का फैसला लिया है।

अभी तक 50 बार दिया जा चुका पुरस्कार

दादा साहब फाल्के पुरस्कार की महत्ता इसलिये है क्योंकि दादा साहब फाल्के ने पहला सिनेमा वर्ष 1913 में राजा हरिश्चन्द्र बनाया था। उस सिनेमा के बाद यह पहले चित्रपट महर्षि कहलाने लगे। उनकी मृत्यु के बाद यह पुरस्कार उनके नाम से रखा गया और आज तक 50 बार यह पुरस्कार प्रदान किया जा चुका है। 

Leave a Reply