उत्तर प्रदेश चुनावों में कांग्रेस पार्टी का एहसास कराती प्रियंका, 7 प्रतिज्ञाओं के बाद किया एक और ‘चुनावी’ एलान

प्रियंका गांधी ने दोहराई अपनी सात प्रतिज्ञाएं

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में आगामी विधान सभा चुनावों में कुछ महीने ही बाकि हैं। जहां सभी राजनीतिक दल अपने-अपने सहयोगियों के साथ 400 से अधिक सीटों वाले इस प्रदेश में अपने-अपने हिस्से की ज़मीन तलाश रहे हैं। तो वहीं कांग्रेस का इकलौता चेहरा बनी प्रियंका गांधी ने सोमवार को अपनी सात प्रतिज्ञाओं से इतर एक और चुनावी ऐलान कर दिया। कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रीय सचिव होने के साथ-साथ उत्तर प्रदेश में कैंपेन की चीफ प्रियंका ने यह ऐलान किया है कि अगर उत्तर प्रदेश में कांग्रेस पार्टी की सरकार बनी तो सूबे में किसी भी बीमारी का 10 लाख तक का मुफ्त इलाज होगा। 

प्रियंका ने ट्वीट कर की घोषणा

प्रियंका ने ट्वीट कर कहा कि- ‘कोरोना काल में और अभी प्रदेश में फैले बुखार में सरकारी उपेक्षा के चलते उत्तर प्रदेश की स्वास्थ्य व्यवस्था की जर्जर हालत सबने देखी। सस्ते व अच्छे इलाज के लिए घोषणापत्र समिति की सहमति से यूपी कांग्रेस ने निर्णय लिया है कि सरकार बनने पर ‘कोई भी हो बीमारी मुफ्त होगा 10 लाख तक इलाज सरकारी।’

प्रतिज्ञा रैली के जरिए चुनावों में मजबूत होने का प्रयास

उत्तर प्रदेश चुनावों में खुद की और कांग्रेस पार्टी की सीटों की हालत मुंह दिखाने लायक बनाने के प्रयास में प्रियंका गांधी काफी दिनों से जमीन पर सक्रिय नज़र आ रही है। लखीमपुर खीरी में मृतक किसानों से मिलने से पहले गिरफ्तार होने से लेकर बाराबंकी में अपनी प्रतिज्ञा यात्रा शुरू करने तक। हर जगह प्रियंका गांधी कांग्रेस का चेहरा बन चुनावों से पहले जमीन पर नज़र आ रही है। आपको बता दें कि अपनी प्रतिज्ञा यात्रा शुरू करने के दौरान प्रियंका ने जनता के सामने अपनी 7 प्रतिज्ञाओं का भी एलान किया था। इस सात प्रतिज्ञाओं में 1- टिकटों में महिलाओं को 40 प्रतिशत हिस्सेदारी। 2- 12वीं पास लड़कियों को स्मार्टफोन, स्नातक पास को स्कूटी। 3- किसानों का पूरा कर्ज माफ किया जाएगा। 4- 2500 में गेहूं-धान, 400 पाएगा गन्ना किसान। 5- बिजली बिल सबका हाफ, कोरोना काल का बकाया साफ। 6- दूर करेंगे कोरोना की आर्थिक मार, परिवार को देंगे 25 हजार। 7- 20 लाख को सरकारी रोजगार शामिल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.