मानसिक शांति के लिए गाय को गले लगा रहे लोग

गले लगाने के लिए 200 डॉलर का कर रहे भुगतान

नई दिल्ली। कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने पूरे विश्व में हाहाकार मचा रखा है। कोरोना के कारण लाखों लोग अपनी जान गवां चुके है। यही वजह है कि मौत के डर और सरकार द्वारा लगाए गए लॉकडाउन के कारण लोग अपने घरों में कैद से हो गए हैं। यही वजह है कि लोगों में तनाव और डिप्रेशन की समस्या भी उत्पन्न हो रही हैं। लेकिन इन समस्याओं से लड़ने के लिए लोग नए नए तरीके अपना रहे हैं। इसी बीच अमेरिका में इन सबसे बचने के लिए एक अजीब और अनोखी तरकीब निकाली गई है। बता दें कि यहां पर लोग मानसिक शांति के लिए गाय को गले लगा रहे हैं।

गाय को गले लगाने के लिए कर रहे भुगतान

आपको बता दें कोरोना काल में अपने मन को शांत रखने के लिए अमेरिका में लोग गाय को गले लगा रहे हैं। इतना ही नही वह गाय को गले लगाने के लिए भुगतान भी कर रहे हैं। कांग्रेस नेता मिलिंद देवरा ने एक ट्विट किया जिसमें शेयर किए गए सीएनबीसी के एक वीडियो में बताया गया है कि अमेरिका में लोग गाय को गले लगाने के लिए एक घंटे के लिए  200 डॉलर तक का भुगतान कर रहे हैं। आगे उन्होंने लिखा कि साफ है कि भारत इसमें आगे है। यहां गायों को 3000 सालों से पूजा जा रहा है।

गाय को गले लगाने का एहसास बच्चे के समान

आपको बता दें कि इस पर डॉक्टरों का कहना है कि गाय को गले लगाने का एहसास घर पर एक बच्चे या पालतू जानवर को पालने के समान है। “एक हग हैप्पी हार्मोन ऑक्सीटोसिन, सेरोटोनिन और डोपामाइन को ट्रिगर करता है, जिससेकोर्टिसोल (तनाव हार्मोन) को कम करता है। ये तनाव के स्तर, चिंता और अवसाद के लक्षणों को कम करता है।”

तनाव प्रतिक्रिया को रेगुलेट करने में मिलती है मदद

गाय स्वभाव से बहुत शांत, कोमल और धैर्यवान होती हैं और गले लगाने वालों को जानवर उसके गर्म शरीर के तापमान, धीमी गति से दिल की धड़कन और बड़े आकार से फायदा होता है। यह सब शरीर के मेटाबोलिज्म, इम्यूनिटी और तनाव प्रतिक्रिया को रेगुलेट करने में मदद करता है।

Leave a Reply