लखनऊ पहुंची ऑक्सीजन एक्सप्रेस की दूसरी खेप

दूसरी खेप में 60 हजार लीटर लिक्विड ऑक्सीजन

लखनऊ। साठ हजार लीटर लिक्विड ऑक्सीजन भरे चार टैंकर लेकर रेलवे की दूसरी ऑक्सीजन एक्सप्रेस बोकारो से लखनऊ आ गई है। इस बार यह ऑक्सीजन एक्सप्रेस अपने साथ 15 हजार लीटर की क्षमता वाले चार ऑक्सीजन टैंकर लेकर आ रही है। बोकारो से लखनऊ तक 735 किलोमीटर का ग्रीन कॉरिडोर बनाया गया है। अब तक राज्य सरकार से एक टैंकर के वाराणसी हटाने के लिए रेलवे को कोई निर्देश नहीं मिला है।

एक रवाना, दूसरी की तैयारी

उत्तर प्रदेश की पहली ऑक्सीजन एक्सप्रेस बोकारो स्थित स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड के प्लांट से तीन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन टैंकरों को लेकर शुक्रवार दोपहर 1.30 बजे बोकारो से चली थी। वाराणसी में एक टैंकर को हटाकर ऑक्सीजन एक्सप्रेस लखनऊ को चल पड़ी थी। शनिवार सुबह 6.30 बजे ऑक्सीजन एक्सप्रेस दो टैंकरों के साथ लखनऊ पहुंच गई थी। इस बीच रेलवे ने दूसरी ऑक्सीजन एक्सप्रेस बोकारो भेजने की तैयारी पूरी कर ली।

सेना के पंजाब बेस से पहुंचे टैंकर

डीआरएम संजय त्रिपाठी और एडीआरएम आपरेशन सहित कई अधिकारियों ने रात भर मिलिट्री स्पेशल लो फ्लोर रैक पर चार टैंकरों की लोडिंग करवाकर इसे शनिवार सुबह 5.30 बजे रवाना कर दिया था। शनिवार रात ही 10.40 बजे चार टैंकर वाली ऑक्सीजन एक्सप्रेस वाया सुल्तानपुर बोकारो भेज दिया गया। उन्होंने सेना के पंजाब बेस से कई और रैक मंगवाए हैं। जितनी तेजी से कम ऊंचाई वाले ऑक्सीजन टैंकरों की आपूर्ति होगी, उतनी तेजी से हम ऑक्सीजन एक्सप्रेस को बोकारो के साथ अन्य दूसरे स्थानों की ओर भेजने में सफल होंगे। रनिंग स्टाफ अलर्ट है। वही बोकारो के सेल प्लांट में टैंकरों की लाइन लग गई है। इस कारण चार टैंकरों को भरवाकर उनकी लोडिंग में समय अधिक लगा। एडीआरएम कहते हैं, हम एक्शन में हैं जैसे ही ऑक्सीजन एक्सप्रेस मिल रही है। हम टैंकरों को अनलोड कर प्लांट भेज रहे हैं। वापस आते ही तुरंत उनकी लोडिंग हो रही है।

Leave a Reply