हाथरस की घटना का एक साल, प्रियंका गांधी वाड्रा का योगी आदित्यनाथ पर हमला

“यूपी सीएम है महिलाओं की सोच के दुश्मनों के मुखिया”- प्रियंका गांधी

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के चर्चित हाथरस मामले को बुधवार को एक साल पूरा हो गया है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने इस घटना को लेकर ट्वीट्स का सिलसिला तेज कर दिया है, जिसमें यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार को महिलाओं की सोच के दुश्मन होने पर फटकार लगाई गई है। प्रियंका ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘आज से एक साल पहले हाथरस में मारपीट की एक भयानक घटना हुई और परिवार को समानता और सुरक्षा देने के दूसरे विचार पर उत्तर प्रदेश सरकार ने परिवार से समझौता किया और लड़की के उल्लेखनीय अधिकार को भी हथिया लिया। उन्होंने आगे लिखा कि – सरकारी अधिकारियों और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अग्रदूतों ने अभिव्यक्ति की पेशकश की जैसे “हमला” नहीं था और पूरे सरकारी तंत्र की ऊर्जा प्रश्न में व्यक्ति के व्यक्तित्व को मारने में खर्च की गई थी।

ट्वीट कर सरकार पर किया हमला

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में लिखा, ‘महिलाओं के खिलाफ गलत कामों पर भयानक मानसिकता रखने वाले सार्वजनिक प्राधिकरण के शीर्ष से आप प्रभावित होने की उम्मीद कैसे कर सकते हैं? वैसे भी यूपी के मुख्यमंत्री महिलाओं की सोच के दुश्मनों के मुखिया हैं। उन्होंने कहा है कि “महिलाओं को स्वतंत्र नहीं होना चाहिए।”

एक साल पहले हुई थी शर्मनाक घटना

गौरतलब है कि 14 सितंबर को यूपी के हाथरस के एक कस्बे में कुछ लोगों ने एक दलित युवती के साथ कथित तौर पर मारपीट और तोड़फोड़ की थी। 20 वर्षीय पीड़ित, जिसे कथित तौर पर सामूहिक बलात्कार और प्रताड़ित किया गया था जिसके बाद इलाज के दौरान दिल्ली के एक आपातकालीन क्लिनिक में पीड़िता की मृत्यु हो गई। भारी पुलिस बल को देखते हुए 30 सितंबर की देर रात हाथरस में उनका अंतिम संस्कार किया गया। यह दावा किया गया था कि पुलिस ने परिवार की सहमति के बिना एक्सपायरी को भस्म कर दिया था। अधिकारियों ने कहा कि अंतिम समारोह “परिवार की इच्छाओं के अनुसार” किया गया था।

Leave a Reply