अब Uttar Pradesh में शराब के साथ ही Petrol Diesel महंगे करने की तैयारी

लॉकडाउन के कारण सभी गतिविधियां बंद रहने से राज्यों की कमाई पर बहुत बुरा असर पड़ा है। अब राज्यों ने अपनी कमाई बढ़ाने के तरीकों पर विचार कर दिया है। ताजा खबर Uttar Pradesh से है, जहां शराब के साथ ही पेट्रोल और डीजल पर कोविड-19 टैक्स वसूलने की तैयारी की जा रही है।

कहा जा रहा है कि कोविड-19 के मद्देनजर लॉकडाउन के चलते उप्र सरकार की कमाई को तगड़ा झटका लगा है। ऐसे में प्रदेश सरकार, दिल्ली की तरह यहां भी शराब पर विशेष कोरोना शुल्क लगा सकती है। वित्तीय संसाधन जुटाने के लिए Petrol Diesel पर भी जल्द टैक्स बढ़ाने की तैयारी है।

सालाना टारगेट का केवल 1.2 फीसरी राजस्व मिला

लॉकडाउन के कारण अप्रैल में उत्तर प्रदेश सरकार का रेवेन्यु कलेक्शन बहुत कम हुआ है। सालाना टारगेट का मात्र 1.2 फीसद कर राजस्व ही सरकार को मिला है। सूत्रों के मुताबिक, अब राजस्व में भारी कमी को देखते हुए राज्य सरकार, शराब की दुकानें खोलने के साथ ही शराब पर अतिरिक्त कोरोना शुल्क लगाने की तैयारी में है।

डेढ़ गुना महंगी हो सकती है शराब

प्रदेश में यदि कोरोना शुल्क लगाने का फैसला हुआ तो शराब डेढ़ गुने से अधिक महंगी हो सकती है। सरकार का मानना है कि शराब महंगी करने का उसे विरोध भी नहीं झेलना पड़ेगा और कमाई भी बढ़ जाएगी। गौरतलब है कि राज्य सरकार ने शराब से 37500 करोड़ रुपये की कमाई का सालाना लक्ष्य तय कर रखा है।