अब ई-प्रतियोगिताओ के माध्यम से कोरोना को हरायेगा प्रयागराज

कोरोना जिस प्रकार के न केवल हमारे देश में बल्कि सम्पूर्ण विश्व में जिस तेज़ गति से फैल रहा है उसका सबसे कारगर उपाय जन-जागरूकता और जन-प्रतिभाग है। अतः डी पी एस जूनियर प्रीतमनगर और कीडगंज स्तिथ विपनेट-विज्ञान प्रसार के आई साइंस वर्ल्ड द्वारा संयुक्त तत्वावधान में नावनिहालों को प्रतिभाग करने हेतु निःशुल्क ई-प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जा रहा है।

उक्त प्रतियोगिताओं के बारे में जानकारी देते हुए डी पी एस जूनियर प्रीतमनगर की कोऑर्डिनेटर रुख़सार फ़ातिमा ने बताया कि प्रयागराज मण्डल के अंतर्गत निवास करने वाले कोई भी नावनिहाल जिनकी आयु 03 से 10 वर्ष तक है वो इनमें 13 से 19 अप्रैल, 2020 तक प्रतिभाग कर सकते हैं और यह पूर्णतः निःशुल्क है। इसका परिणाम 23 अप्रैल 2020 तक फेसबुक और यथोचित मीडिया के माध्यम से घोषित किया जाएगा।उन्होंने बताया कि प्रतिभागियों को मुख्य विषय : “फाइट अगेंस्ट कोरोना” पर दो प्रतियोगिताओं में प्रतिभा करने का अवसर मिल रहा है।

प्रथम प्रतियोगिता में उन्हें सिर्फ घर पर ही निर्मित फेस मास्क पर मुख्य विषय से संबंधित नारा (स्लोगन) लिखकर उस मास्क को पहनना है और फिर उसे पहने हुए अपनी फ़ोटो को dpsjuniorpreetamnagar@gmail.com पर ईमेल करना है अथवा 9335 625 742 पर व्हाट्सएप के माध्यम से भेज सकते हैं। इसी तरह दूसरी प्रतियोगिता में नावनिहालों को मुख्य विषय पर आधारित एक पेंटिंग बनाकर उसकी अच्छी फ़ोटो खींचकर उपरोक्त ईमेल आई डी या व्हाट्सएप नंबर पर भेजा जा सकता है। अपने कार्यों की फ़ोटो के साथ प्रतिभागी बच्चे अपना नाम, अपने अभिभावक का नाम, अपनी उम्र, लिंग, फ़ोन नंबर और निवास स्थान का पता जरूर भेजें ताकि वे सार्थक प्रतिभाग कर सकें।

इसी क्रम में आई साइंस वर्ल्ड के कोऑर्डिनेटर, इं ऋतंशु गुप्ता ने बताया कि सभी प्रतिभागियों को ई-प्रमाण पत्र दिया जाएगा। इन दोनों प्रतियोगिताओं को दो श्रेणियों में आयोजित की जा रही है। कनिष्ठ श्रेणी 03 से 06 वर्ष तक और वरिष्ठ श्रेणी 06+ से 10 वर्ष तक सुनिश्चित की गई है। जो प्रतिभागी इन प्रतियोगिताओं में उत्कृष्ट प्रदर्शन करेंगे उन्हें उनकी श्रेणी अनुसार ई-प्रमाण पत्र और उनकी प्रविष्टियों को यथानुसार पत्र पत्रिकाओं में प्रकाशित भी करवाया जाएगा ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग कोरोना के प्रति इन नन्हे कोरोना वारियर्स से प्रेरणा ले जागरूक हो सकें।

इसी क्रम में डी पी एस जूनियर प्रीतमनगर के निदेशक इं स्वप्निल कुमार शर्मा ने बताया कि भविष्य में इस गतिविधि को और व्यापकता दी जाएगी जिसमें कुछ और ई-प्रतियोगिताओं के साथ बड़े बच्चों एवं अभिभावकों को भी जोड़ने का प्रयास किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इन गतिविधियों का मुख्य उद्देश घर पर ही उपलब्ध संसाधनों से फेस मास्क बनाने की हमारे यशस्वी प्रधानमंत्री जी के राष्ट्रहित में की गई आवाहन को जन मानस तक पहुँचाना एवं कोरोना के प्रति जन जागरण कर उसके खिलाफ चल रही जंग को धार देना है क्योंकि जानकारी में ही बचाव है।

इसी प्रकार से ये प्रतियोगिताएं पूर्ण रूप से “वर्क फ्रॉम होम” पद्यति को “लर्न ऐट होम” से जोड़ने का एक नवीन पहल है। उन्होंने ये भी बताया की इस पूरी प्रतियोगिता की रूपरेखा ऑनलाइन ही वर्क फ्रॉम होम के अंतर्गत ही खींची गई है। उन्होंने समस्त कोरोना वारियर्स को उसके अतुलनीय पराक्रम और सेवा के लिए आभार व्यक्त किया। इस पूरी प्रक्रिया को मूर्त रूप देने में ऑनलाइन फोरम के माध्यम से रविंदर बिर्दी, आशीष तिवारी, वक़ार अली, पूनम सिंह, जावेद खां, इं ऋषभ पांडेय, शुभम विश्वकर्मा, आदि के साथ मत्त्वपूर्ण रूप से इं स्वप्निल कुमार शर्मा, इं ऋतंशु गुप्ता और रुख़सार फ़ातिमा उपस्थित रहे।