अब यूपी में वैक्सीन लगवाने के लिए आधार कार्ड दिखाना ज़रूरी नही

लखनऊ। कोरोना संक्रमण अपने विकराल रूप में है। ऐसे में इसके रोकथाम के लिए कई उपाय किए जा रहे है। जिसके चलते देश के सभी राज्यों में टीकाकरण किया जा रहा है। फिलहाल उत्तर प्रदेश के 18 जिलों में टीकाकरण हो रहा है। इस बीच खबर आई है कि योगी सरकार ने कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर अपना एक फैसला वापस ले लिया है ।

कोई भी डॉक्यूमेंट देने पर होगा टीकाकरण

अब 18 से 44 साल के लोगों के टीकाकरण के लिए आधार और स्थाई निवास प्रमाण पत्र दिखाने की आवश्यकता नही होगी। आप यूपी निवासी हो इसके लिए कोई भी डॉक्यूमेंट देने पर टीकाकरण हो सकता है। यूपी में अब स्थायी और अस्थायी रूप से रहने वाले सभी लोगों का टीकाकरण होगा। सरकार ने यह फैसला उस समय बदला है, जब उत्तर प्रदेश में कोरोना का आंकड़ा बढ़ रहा है।

दूसरे राज्यों के लोग करा रहे रजिस्ट्रेशन

बता दे कि इससे पहले सिर्फ यूपी वाले ही टीकाकरण करवा सकते थे। नेशनल हेल्थ मिशन के डायरेक्टर की तरफ से चिट्ठी जारी की गई जिसमें कहा गया था कि काफी संख्या में दूसरे राज्यों के 18 से 44 साल के लोग वैक्सीनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन करा रहे है जिसके चलते यूपी के लोगों को वैक्सीन नहीं लग पा रही है।

यूपी में 18 से 44 उम्र के 9 करोड़ लोग

उत्तर प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में टीकाकरण कार्यक्रम जारी है। प्रदेश के 18 जिलों में 18 साल से ऊपर वालों को टीका लगना शुरू हो गया है। बता दें कि उत्तर प्रदेश में 18 से 44 साल के 9 करोड़ लोग हैं।

Leave a Reply