नन्दीग्राम में बोले मोदी, ‘सिर्फ एक आवाज़, 2 मई, दीदी गई’

पश्चिम बंगाल। पश्चिम बंगाल में चुनावी संग्राम शुरू होने वाला है, जिसके चलते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज पश्चिम बंगाल के मेदिनापुर के कांथी में चुनावी रैली को संबोधित कर रहे हैं। इस मौके पर पीएम मोदी ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर जमकर निशाना साधा । पीएम मोदी ने कहा कि” बंगाल में अब हर तरफ एक ही आवाज, 2 मई, दीदी गई।” बता दें कि मेदिनापुर जिले में ही नंदीग्राम सीट आती है। नंदीग्राम को अधिकारी परिवार का गढ़ माना जाता है और यहां सुभेंदु अधिकारी का काफी दबदबा भी है।

परिवर्तन आज पश्चिम बंगाल की जरूरत है

पीएम मोदी ने कहा कि “आज जो युवा 25 वर्ष के हैं, वो युवा जो आज इस चुनाव में पहली बार अपने पवित्र मत का मतदान देने वाले हैं उनके लिए ये समय बहुत अहम है। यहां के युवाओं पर आने वाले 25 वर्ष के पश्चिम बंगाल का दायित्व है। इसलिए आसोल परिवर्तन आज पश्चिम बंगाल की जरूरत है।”

“2 मई को बंगाल के विकास के बीच आ रही दीवारें टूट जाएंगी।”

पीएम मोदी ने आगे कहा कि “2 मई को बंगाल के विकास के बीच आ रही दीवारें टूट जाएंगी। यहां भाजपा की सरकार बनेगी और किसानों के हक के 3 साल के पैसे भी उनके खातों में मैं जमा करके रहूंगा। पिछले तीन साल के जो पैसे दीदी ने नहीं दिए, वो मैं किसानों को दूंगा। भाजपा की डबल इंजन की सरकार हल्दिया को नदी जलमार्गों से कनेक्ट कर रही है।” पश्चिम बंगाल, बिहार और उत्तर प्रदेश के स्टील प्लांट्स और अन्य उद्योगों के लिए जो आयात और निर्यात होगा, उसका हल्दिया अहम सेंटर बनने वाला है। ये पैसे TMC सरकार को किसानों तक नहीं पहुंचने देना था, ये पैसे दिल्ली से भारत सरकार किसानों के खाते में जमा करना चाहती थी लेकिन दीदी किसानों से दुष्मनी लेकर बैठ गई। किसानों के खाते में भारत सरकार के पैसे नहीं जाने दिए।

बंगाल का किसान भूल नहीं सकता दीदी ने निर्ममता

पीएम मोदी ने ममता निशाना साधते हुए कहा कि बंगाल का किसान भूल नहीं सकता कि कैसे दीदी ने निर्ममता दिखाई है। दीदी ने आपको पीएम किसान सम्मान निधि से वंचित रखा। बहनों-बेटियों के सशक्तिकरण के लिए जो काम केंद्र की भाजपा सरकार कर रही है। उसे डबल इंजन की सरकार कई गुना बढ़ाने वाली है। केंद्र सरकार हर घर नल से जल पहुंचाने के लिए काम कर रही है। लेकिन तृणमूल की सरकार ने यहां ये भी नहीं होने दिया। टीएमसी सरकार को आपकी चिंता नहीं है।

Leave a Reply