जानिए, बंगाल में इन हाई-प्रोफाइल सीटों पर आज जारी है जंग

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में आज दूसरे चरण के चुनाव जारी हैं। दूसरे चरण में 30 सीटों पर हो रहे मतदान में 345 उम्मीदवारों की किस्मत आज ईवीएम में बंद हो जायेगी। 2 मई को मतगणना होने तक इसकी किस्मत इन्हीं ईवीएम में कैद रहेगी। आज हो रहे मतदान में कई दिग्गजों की किस्मत का लेखा-जोखा जनता जनार्दन के हाथ में है। आइये डालते हैं एक नज़र, कि आखिरकार, किन दिग्गजों की किस्मत ईवीएम में आज बंद हो रही है।

नंदीग्राम में जारी संग्राम

नंदीग्राम विधानसभा सीट पर लोगों की निगाहें काफी समय से टिकी हुई हैं। नंदीग्राम सीट पर तृणमूल कांग्रेस की ओर से पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष ममता बनर्जी चुनावी समर में हैं। जिनकी प्रतिद्वन्दिता भारतीय जनता पार्टी के शुभेन्दु अधिकारी से हो रही है। यह सबसे हाई प्रोफाइल सीट मानी जा रही है। सबसे खास बात यह है कि शुभेन्दु अधिकारी के लिए यह चुनाव उनकी प्रतिष्ठा का भी है क्योंकि यह उन्हीं का क्षेत्र है और प्रचार में उन्होनें ममता को भी बाहरी बताया था। बताते चलें कि नंदीग्राम सीट काफी लम्बे वक़्त तक वामपंथियों के हाथों में भी रही थी।

डेबरा में दो पूर्व आईपीएस आमने-सामने

डेबरा विधानसभा सीट पर भी चुनावी घमासान पर सबकी निगाहें टिकी हैं। खास बात यह है कि यहां दोनों प्रमुख राजनैतिक दलों से दो पूर्व आईपीएस आमने-सामने एक दूसरे को टक्कर दे रहे हैं। डेबरा से बीजेपी ने पूर्व आईपीएस भारती घोष को चुनावी समर में उतारा है तो टीएमसी ने पूर्व आईपीएस हुमायूं कबीर पर ऐतबार कर चुनावी समर में उतार दिया है। वर्षों तक बदन पर खाकी चढ़ाने वाले अब खादी पहनने की तैयारी में हैं।

साबंग का कौन होगा दबंग

तीसरी हाई प्रोफाइल सीट है, साबंग विधानसभा सीट। बंगाल के पश्चिमी मेदिनीपुर जिले की साबंग विधानसभा सीट पर इस बार तृणमूल कांग्रेस की ओर से मानस रंजन भुइयां चुनावी मैदान में हैं, जिनकी टक्कर भाजपा के अमूल माइति हैं। यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि मानस लगातार तीन बार इसी सीट से कांग्रेस के विधायक रह चुके हैं। लेकिन, इस बार गिरगिट को हराते हुए उन्होनें दल बदला और टीएमसी वाले हो गये। जबकि, पिछली बार इन्होनें टीएमसी के ही निर्मल घोष को इसी सीट से हराया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.