‘हमास’ पर इज़राइली कहर : चरमपंथी इस्लामिक संगठन के ठिकानों पर गरजीं इज़राइली तोपें, अभी तक 119 की मौत

नई दिल्ली। इज़राइल और फ़लस्तीन के बीच युद्ध अब काफी तेज हो चुका है। दोनों देश एक दूसरे की जान के दुश्मन बने हुए है। बता दें कि, हमास ने गाजा में सुरंग के जरिए कई ठिकानें बना रखे थे। जिसे इजरायल ने भीषण बमबारी से नष्ट कर दिया।

फ़लस्तीनियों का पलायन शुरू

इजरायल ने हमास के ठिकानों और फ़लस्तीन पर तोपों के जरिए लगभग चालीस मिनट तक गोले बरसाए। लोगों का कहना है कि, बार्डर के आसपास रहने वाले फलस्तीनियों का अब वहां से पलायन शुरू चुका है। जवाब में हमास ने इज़राइल के येरुशलम और तेल अवीव सहित कई शहरों पर रॉकेट से ज़बरदस्त हमले किये। इज़राइल ने कहा है कि, लेबनान की तरफ से भी रॉकेट से हमले किए गए। जबकि, लेबनान के द्वारा इस बात का खंडन किया गया है।

फ़लिस्तीन में 119 लोगों की मौत

फ़लिस्तीन के अधिकारी के द्वारा बताया गया कि, अब तक 119 लोगों की मौत हो गई है। इनमें 31 बच्चे और 19 महिलाएं शामिल हैं। जबकि यहां 830 से ज्यादा लोग घायल हो चुके है। संयुक्त राष्ट्र के समन्वय कार्यालय ने बताया कि, गाजा में अब तक लगभग 200 घर नष्ट हो चुके है। सैकड़ों लोग उत्तरी गाजा के स्कूल में शरण ले रहे हैं। इजरायल के यहूदी और अरब मिश्रित आबादी में अब अ‌र्द्धसैनिक बल तैनात किया गया है। यहां पर भी दंगे चल रहे हैं।

इज़राइल की जमीनी सेना भाग ले रही

इज़राइली सैन्य प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कर्नल जोनाथन कोनरिकस ने कहा कि “हमारी कार्रवाई में 160 हवाई जहाज, जमीनी सेना भाग ले रही है। टैंकों ने कुछ समय विशेष निशाने बनाकर गोले बरसाए हैं, लेकिन हम गाजा पट्टी में अब तक घुसे नहीं हैं।”

पहले दी धमकी, फिर हमास ने दागे रॉकेट

दरअसल, बीते सोमवार को ग़ाज़ा पर शासन करने वाले चरमपंथी इस्लामिक संगठन ‘हमास’ ने येरुशलम में अल-अक़्शा मस्ज़िद से इज़राइली फौज को पीछे हटने की धमकी दी थी। इसके बाद, ‘हमास’ ने इज़राइली क्षेत्र पर कई रॉकेट दागे। इज़राइली फौज ने भी इन हमलों का जमकर ज़वाब दिया और फ़लिस्तीनियों पर हवाई हमले किये। हालांकि, विश्व के कई देशों ने दोनों पक्षों से शांति की अपील की है, लेकिन, बीती 5 रातों से दोनों के बीच लड़ाई जारी है।

Leave a Reply