‘इजरायल को अपनी रक्षा करने का हक है’: बाइडेन

नई दिल्ली। हमास और इजरायल की सेना के बीच जो खूनी संघर्ष हुआ उसी के चलते अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने एक अहम बयान दिया है। अमेरिकी राष्ट्रपति के द्वारा कहा गया कि ‘मेरी उम्मीद है कि यह संघर्ष जल्दी ही समाप्त हो जाएगा। इजरायल को अपनी रक्षा करने का हक है, जब आपकी सीमा में हजारों की संख्या में रॉकेट उड़कर आ रहे हों।’

कई दिनों से हमास कर रहा था हमलें

बता दें कि अमेरिका ने मिस्र और कतर में अपने राजनयिकों को भेजा है ताकि इस गतिरोध को खत्म किया जा सके। बीते कई दिनों से हमास इजरायल पर रॉकेटों से हमलें कर रहा है। जिसके चलते इजरायल ने उसे जवाब देते हुए एयर स्ट्राइक्स की हैं। आंकड़े बताते है कि सोमवार शाम से शुरू हुई इस हिंसा में अब तक 60 से ज्यादा फलीस्तीनी मारे गए हैं, जबकि 6 इजरायलियों की भी मौत हुई है। बुधवार शाम को भी हमास ने लगातार तेल अवीव में रॉकेटों के जरिए हमले किए । आर्थिक दृष्टि से देखें तो तेल अवीव इजरायल के लिए अहम माना जाता है।

शांति को फिर से कायम किए जाने की जरूरत

अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जेक सुलिवन के द्वारा बीते बुधवार को कतर के विदेश मंत्री मोहम्मद बिन अब्दुलरहमान अल-थानी से बातचीत की गई। इसके अलावा अमेरिकी विदेश मंत्री एंटोनी ब्लिंकेन ने फलीस्तीन के राष्ट्रपति महमूद से भी अब्बास से बात की है। इससे पहले उन्होंने नेतान्याहू से बात की थी और कहा था अब इलाके में शांति को फिर से कायम किए जाने की जरूरत है।

‘अभी तो यह शुरुआत है’

इस बीच इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतान्याहू ने बयान दिया कि हमास को इस हिंसा की भारी कीमत चुकानी पड़ेगी। नेतान्याहू ने कहा, ‘अभी तो यह शुरुआत है।’ उन्होंने चेतावनी दी कि आने वाले दिनों में में हमास के कुछ और सीनियर कमांडर्स को भी टारगेट किया जा सकता है।

Leave a Reply