आईएएफ ने डॉक्टरों को पहुंचाया DRDO के कोविड अस्पताल

नई दिल्ली। कोरोना के खिलाफ जंग में देश की सेनाएं भी पूरी तरह से जुट गई हैं। जहां डीआरडीओ ने राजधानी दिल्ली में कोविड केयर सेंटर बनाया और मरीजों का इलाज शुरू किया, वहीं वायुसेना भी बखूबी देश सेवा का अपना फर्ज निभा रही है।

कुछ इस तरह मदद कर रही वायुसेना

दरअसल, देश में कोविड-19 के संक्रमण को रोकने के सरकारी प्रयासों में अब भारतीय वायुसेना भी सामने आ गई है। वायुसेना ने महामारी पर अंकुश लगाने में सरकार की सहायता के लिए ऑक्सीजन कन्टेनर और सिलेंडर, आवश्यक दवाएं, उपकरण तथा चिकित्सा कर्मियों को अपने विमानों से भेजना शुरू कर दिया है।

कोविड केन्द्रों तक पहुंचाए जा रहे डॉक्टर और नर्स

भारतीय वायुसेना ने कोच्चि, मुंबई, विशाखापट्टनम और बेंगलुरु से डॉक्टरों और नर्सों को दिल्ली में डीआरडीओ के अस्थायी कोविड अस्पताल में पहुंचाया है। वायुसेना ने बेंगलुरु से डीआरडीओ के ऑक्सीजन कंटेनर दिल्ली के कोविड केन्द्रों में पहुंचाए।

रक्षा मंत्री ने सेना को सहायता के दिए थे निर्देश

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को सभी रक्षा प्रतिष्ठानों को देश में कोविड-19 की रोकथाम के लिए नागरिक प्रशासन को हर प्रकार की सहायता के निर्देश दिए। रक्षा मंत्री ने इस बारे में वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए बैठक की, जिसमें मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों, तीनों सेना प्रमुखों और प्रमुख रक्षा अध्यक्ष बिपिन रावत ने भाग लिया। रक्षा मंत्री ने सेना के सेवानिवृत्त डॉक्टरों और नर्सों को भी कोविड-19 की रोकथाम के प्रयासों में लगाने का सुझाव दिया है।

Leave a Reply