ज़िन्दगी बचाने की जंग : वायु सेना ने बीमार मरीज को एयरलिफ्ट कर बचाई जान

एलएसी के निकट फोबरांग क्षेत्र का मामला

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री ने हाल ही में फील्ड अधिकारियों से संवाद करते हुए कहा कि, हमारी लड़ाई एक-एक जीवन बचाने की है। भारतीय वायु सेना ने इसी बात को चरितार्थ किया और पूर्वी लद्दाख में एलएसी के नजदीक बीमार मरीज को एयरलिफ्ट करके उनकी जान बचाई।

पूर्वी लद्दाख इलाके में एलएसी के निकट की घटना

पूर्वी लद्दाख की वास्तविक नियंत्रण रेखा के फोबरांग क्षेत्र के तांग्से गांव में एक मरीज की मंगलवार को हालत अचानक बिगड़ गई। कोरोना वायरस से उपजे हालात के बीच परिवार के लिए उसे अस्पताल पहुंचाना आसान नहीं था। ऐसे में परिवार ने प्रशासन से आग्रह किया कि वायुसेना की मदद ली जाए। प्रशासन की पहल पर गंभीर रूप से बीमार मरीज को अस्पताल तक पहुंचाने के लिए एमआई 17 हेलीकॉप्टर सीमांत क्षेत्र में पहुंचा।

मरीज को एयरलिफ्ट कर पहुंचाया अस्पताल

मरीज को समय रहते लेह के जिला अस्पताल तक पहुंचाया गया। अगर वायुसेना त्वरित कार्रवाई न करती तो दूर-दराज के गांव के इस मरीज की जान बचाना संभव नहीं था। पूर्वी लद्दाख के चुशूल इलाके के काउंसलर कौंचुक स्टेंजिन के साथ स्थानीय निवासियों ने दूर दराज के मरीज को एयरलिफ्ट करने के लिए वायुसेना का आभार जताया।

आईएएफ चलती कारगिल कोरियर सेवा

बता दें कि भारतीय वायुसेना के हेलीकॉप्टर दूरदराज इलाकों के लोगों की मदद करने के लिए हमेशा हाजिर रहते हैं। वायुसेना सर्दियों में कारगिल के लोगों को मंजिल तक पहुंचाने के लिए कारगिल कोरियर सेवा भी चलाती है।

Leave a Reply