“पैगंबर का अनादर करने वालों को दें सजा”- इमरान खान

नई दिल्ली। पाकिस्तान के वज़ीर-ए-आज़म ने बीते शनिवार को इमरान खान ने पश्चिमी देशों की सरकारों से आग्रह किया उन्होंने कहा कि “वे पैगंबर का अनादर करके मुसलमानों के खिलाफ नफरत भरे संदेश जानबूझकर फैलाने वालों को उसी प्रकार दंडित करें जिस तरह से उन्होंने नाजी जर्मनी द्वारा यहूदियों के नरसंहार के खिलाफ किसी नकारात्मक टिप्पणी को प्रतिबंधित किया है।”

इमरान खान ने किए कई ट्वीट

कट्टरपंथी धार्मिक समूह द्वारा हाल ही में हिंसक विरोध प्रदर्शन के बाद इमरान खान ने एक कई ट्वीट किए और कहा कि “मुसलमान अपने पैगंबर की किसी भी तरह की ईशनिंदा बर्दाश्त नहीं कर सकते।”

“मुस्लिमों के खिलाफ जानबूझकर नफरत फैला रहे है”

उन्होंने कहा, ‘मैं उन पश्चिमी देशों की सरकारों का भी आह्वान करता हूं जिन्होंने नाजी जर्मनी की ओर से यहूदियों के नरसंहार से इनकार करने वाली टिप्पणियों को प्रतिबंधित किया है कि वे उन लोगों को दंडित करने के लिए भी वही मानक अपनायें जो पैगंबर के खिलाफ टिप्पणी करके मुस्लिमों के खिलाफ जानबूझकर नफरत वाले संदेश फैला रहे हैं।’

विवादित कार्टून के खिलाफ प्रदर्शन

इमरान खान का यह ट्वीट ऐसे समय पर आया है जब उनकी सरकार ने पिछले साल फ्रांस में प्रकाशित एक ईशनिंदा कार्टून को लेकर फ्रांसीसी राजदूत को पाकिस्तान से निष्कासित करने की मांग पर एक हिंसक विरोध प्रदर्शनों के बाद बृहस्पतिवार को कट्टरपंथी इस्लामी पार्टी तहरीक-ए-लबाइक पाकिस्तान पर प्रतिबंध लगा दिया है।

Leave a Reply