कोरोना संकट के बीच यहां सरकार ने महंगा कर दिया पेट्रोल और डीजल, जानें डिटेल्स

एक तरफ देश में Coroanvirus का संक्रमण फैला है और लोग इससे डरे हुए हैं वहीं उनकी जेब पर बोझ बढ़ाने वाली खबर आई है। दर असल, राजस्थान में एक तरफ जनता कोरोना वायरस संक्रमण के संकट से जूझ रही है, वहीं दूसरी तरफ प्रदेश सरकार अपना वित्तीय संकट दूर करने के लिए पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ा रही है। जानकारी के अनुसार, सरकार ने 25 दिन बाद ही एक बार फिर पेट्रोल और डीजल पर वैट बढ़ा दिया है।

सरकार ने पेट्रोल पर दो प्रतिशत और डीजल पर एक प्रतिशत वैट बढ़ाया है। बुधवार देर रात इसकी अधिसूचना जारी की गई। इसके बाद अब पेट्रोल पर वैट 34 से बढ़ाकर 36 प्रतिशत और डीजल पर 26 से बढ़कर 27 प्रतिशत हो गया है। इस बढ़ोतरी के बाद राजस्थान में पेट्रोल में डेढ़ रुपए और डीजल में 70 से 80 पैसे प्रति लीटर की बढोतरी हो जाएगी।

बता दें कि राजस्थान सरकार ने 22 मार्च को ही पेट्रोल और डीजल पर चार-चार प्रतिशत वैट बढ़ाया था। यही वह समय भी था, जब केन्द्र सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर एक्साइज डयूटी में तीन रुपए की बढ़ोतरी की थी। कोरोना संकट के चलते राजस्थान सरकार को करीब 17 हजार करोड़ के राजस्व का नुकसान हुआ है। मार्च का महीना जो सबसे ज्यादा राजस्व देने वाला महीना माना जाता है, उस दौरान कोरोना संकट के कारण सब कुछ ठप हो गया और ऐसे समय में सरकार के लिए आर्थिक संकट बहुत ज्यादा बढ़ गया।