महिला आईएएस अधिकारी ने उत्पीड़न से तंग आकर इस्तीफा का निर्णय लिया

हरियाणा कैडर एवं उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्धनगर के बादलपुर में जन्मी आई०ए०एस० अधिकारी रानी नागर ने आला अधिकारियों के उत्पीड़न से तंग आकर गत 17 अप्रैल को फेसबुक ओर अपने ट्विटर अकॉउंट पर वीडियो डाल नौकरी से इस्तीफा देने की ओर आरोपी अधिकारी से अपनी जान को खतरा बताया,इस पोस्ट के बाद गुर्जर नेताओ ने रानी नागर का साथ देने के लिए सोशल मीडिया पर मुहिम शुरू कर दी है।

फेसबुक और पोस्ट लिखकर ओर बड़ी संख्या में ट्वीट कर लोगो से समर्थन मांगा जा रहा है,अलग अलग प्रदेशो से ट्वीट करने वालो ने रानी नागर को न्याय दिलाने की बात कही है। आज बहुजन समाज पार्टी के नेता डॉ कृष्णपाल जी ने कहा कि रानी नागर के साथ अन्याय हो रहा है,इसी से आहत होकर रानी नागर इस्तीफा देने को मजबूत हो रही है,देश और प्रदेश में सत्तासीन सरकार आने से पूर्व एक जुमला कहा करती थी कि बहु बेटी के सम्मान में भाजपा मैदान में ,आज हरियाणा और केंद्र में भाजपा की सरकार है।

उसके बावजूद इस बिटिया को कड़े निर्णय लेने को मजबूर होना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि हम अपने संगठन और समाज के साथ महिला अधिकारी का हर तरह से साथ देंगे,इसके लिए सड़क से लेकर अदालत तक कि लड़ाई लड़ी जाएगी। डॉ कृष्णपाल ने कहा की कोई महिला आई ०ए ०एस ०अधिकारी नौकरी से इस्तीफा देने का निर्णय आसानी से नही लेती,उन्होंने बताया कि चंडीगढ के नेताओ से उनकी बात हुई है,हरियाणा के नेताओ ने अधिकारियों से बात करनी शुरू कर दी है,रानी नागर को हर हाल में न्याय दिलवाया जाएगा।