डर से भरी फिल्म ऐनाबेल बनी मौत का कारण

अमर भारती : अगर हॉरर फिल्मों की बात करे तो अबतक आपने कई डरावनी फिल्में देखी होंगी। लेकिन बात जब ऐनाबेल की हो तो डर सा लगने लगता हैं कई दिनों पहले ही ऐनाबेल कम्स होम रिलीज हुई है। हाल ही में फिर से वही डॉल आपको डराने आई है और ये डॉल डराने में कामयाब भी हो रही है। यह फिल्म इन दिनों पूरी दुनिया में चल रही है। वहीं अब इस फिल्म से जुड़ी एक बेहद ही चौंकाने वाली खबर सामने आई है। खबर के मुताबिक हाल ही में इस फिल्म को देखने के बाद एक शख्स की मौत हो गई है। रिपोर्ट के मुताबिक, हाल ही में 77 साल के ब्रिटिश व्यक्ति बर्नार्ड चौनिंग छुट्टी के लिए थाईलैंड में थे और हाल ही में रिलीज अनाबेल कम्स होम देखने के लिए वो गए। लेकिन अफसोस की बात यह है कि जब फिल्म खत्म हुई और लाइट्स जलीं, तो बगल में बैठी औरत ने देखा कि उनकी जान जा  चुकी थी।

जब औरत को पता चला कि वह मर चुके है, तो वो जोर जोर से ये चिल्लाईं और मदद के लिए आपातकालीन सेवाओं को फोन किया। थोड़ी देर के बाद ही सिनेमा हॉल में ही उस व्यक्ति को मृत घोषित कर दिया गया। इसके बाद उनके शरीर को ढंक दिया और फिर उसे एम्बुलेंस में भेज दिया गया।

रिपोर्ट में बताया गया है कि किसी को पता ही नहीं चला कि उस शख्स की मौत कब हो गई। जब शख्स की मौत हुई तो सिनेमाहॉल का पूरा स्टाफ काफी परेशान हो गया था। वहीं स्थानीय पुलिस को बाद इस सबकी सूचना दी गई थी। उन्हें नहीं पता कि व्यक्ति की मौत कैसे हुई है लेकिन इतना साफ है कि फिल्म देखते वक्त ही उसकी जान गई है।

फिलहाल ऐसे में अब सवाल ये भी है क्या वाकई में ऐनाबेल फिल्म से ही बर्नाड की जान गई है। बता दें कि एनाबेल रियल लाइफ पर बेस्ड रही है। 1970 में अमेरिका में एक मां ने अपनी बेटी डॉना के लिए दुकान से गुड़िया खरीदी थी। यह कार्टून कैरेक्टर रैगेडी ऐन की तरह ही दिखती थी। ये गुड़िया कुछ दिन बाद ही अपने आप हिलने लगी। कभी उसके हाथ हिलते तो कभी उसका सिर हिलता। बताया जाता है कि गुड़िया के अंदर एनाबेल नाम की एक लड़की की आत्म आ गई थी। खैर इसी पर बेस्ड ये फिल्म बनाई गई थी। ये  फिल्म अबतक की सबसे डरावनी मानी गई है।

रिपोर्ट प्रशांत मिश्रा 

यदि आप पत्रकारिता क्षेत्र में रूचि रखते है तो जुड़िए हमारे मीडिया इंस्टीट्यूट से:-


Warning: file_get_contents(index.php): Failed to open stream: No such file or directory in /home/l4vfpquljf6f/public_html/wp-includes/plugin.php on line 437