कार में बैठे सभी व्यक्ति को सीट बेल्ट पहनने की है ज़रुरत, नितिन गडकरी ने सुनाया दिलचस्प किस्सा

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने हाल ही में एक बटान देते हुए कहा की देश के लोगों को सड़क सुरक्षा में सुधर के लिए मानसिक बदलाव की ज़रुरत हैं…उन्होंने ये भी कहा की पीछे की सीट पर बैठे लोगों को लगता है की उनको बेल्ट की ज़रुरत नहीं और ये एक समस्या है…गौरतलब हो की मशहूर उद्योगपति साइरस मिस्त्री की एक सड़क हादसे में मौत हो गई थी और उनकी मौत के बाद से सेफ्टी फीचर्स पर सवाल उठाए जा रहे है..जहां केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी से सड़क हादसे को लेकर सवाल किए जा रहे है…जिसको लेकर गडकरी का कहना है की लोगों को देश के सड़क सुरक्षा में सुधार के लिए मानसिक बदलाव की ज़रुरत है…

इसी दौरान गडकरी ने चार मुख्यमंत्री के साथ सफर का किस्सा भी सुनाया जहां उन्होंने बताया की आम लोगों को तोह भूल ही जाओ..”मैं एक बार चार मुख्यमंत्रीं के साथ उनकी कार से जा रहा था और मैं फ्रंट सीट पर बैठा था और उन्होंने देखा की सीट बेल्ट की जगह पर क्लिप लगी थी, जिससे सीट बेल्ट ना लगाने पर भी अलार्म की आवाज ना आए तो उन्होंने ड्राइवर को फटकारा और सुनिक्षित किया की कार चलने से पहले सीट बेल्ट ज़रूर लगाए…इतना ही नही गडकरी ने बताया कि मैंने इस तरह के क्लिप के निर्माण और बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया है।

दरअसल नितिन का कहना है की पीछे वाली सीट पर बैठे लोगों को लगता है की उनको सीट बेल्ट की ज़रुरत नहीं है लेकिन ये समस्या काफी गंभीर है…उन्होंने किसी हादसे की टिंप्पड़ी नहीं की लेकिन उनका कहना है की आगे और पीछे की सीट पर बैठने वाले सभी लोगों को सीट बेल्ट पहनने की जरूरत है…इतना ही नही गडकरी ने कहा, ‘जब देश से गाड़ी एक्सपोर्ट की जाती है तो उसमें 6 एयरबैग्स होते हैं तो फिर भारतीय कारों में चार एयरबैग ही क्यों होते हैं..क्या भारतीयों की जान की कीमत नहीं है? जब बड़ी संख्या में एयर बैग का निर्माण होगा तो इसकी कीमत घटकर 900 रुपये रह जाएगी

REPORT BY: SHRUTI SHARMA