चुनाव समिति ने लागू की आचार संहिता, 21 को होगा पत्रकारों का चुनाव

उत्तर प्रदेश राज्य मुख्यालय मान्यता प्राप्त संवाददाता समिति का चुनाव

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की विधान सभा के प्रेस रूम में उत्तर प्रदेश राज्य मुख्यालय मान्यता प्राप्त संवाददाता समिति के 23 पदों 21 मार्च को चुनाव होने वाला है। चुनावों को निष्पक्ष रूप से कराने के लिए चुनाव समिति की ओर से आचार सहिंता भी लागू कर दी गयी है।

850 पत्रकारों को मतदान का अधिकार

23 करोड़ की आबादी वाले उत्तर प्रदेश में सरकार की योजनाओं और उपलब्धियों को जनता तक और जनता की समस्याओं को सरकार तक पहुंचाने के लिए वैसे तो पूरे राज्य में मान्यता और गैर मान्यता प्राप्त लगभग 70 हज़ार पत्रकार है। लेकिन 21 मार्च को जिन 23 पदों के लिए विधान सभा के प्रेस रूम में चुनाव होगा, उस चुनाव में मतदान करने का अधिकार सिर्फ उन्हीं लगभग साढ़े 8 सौ पत्रकारों को होगा जिन्हे सरकार ने राज्य मुख्यालय की मान्यता से नवाजा है।

मतदान की पूरी प्रक्रिया की कराई जाएगी वीडियोग्राफी

21 मार्च को होने वाले 23 पदों के चुनाव के लिए कुल 83 पत्रकार चुनावी मैदान में उतरे है। पत्रकारों के चुनाव 2021 में अध्यक्ष के एक पद के लिए 8 उम्मीदवार है, सचिव के 1 पद के लिए 5, कोषाध्यक्ष के 1 पद के लिए 4, उपाध्यक्ष के 3 पदों के लिए 16, संयुक्त सचिव के 3 पदों के लिए 14 और कार्यकारिणी सदस्य पद के 14 पदो के लिए 38 उम्मीदवार चुनावी संगम मे अपनी किस्मत आजमा रहे है। चुनाव के संबंध मे 16 मार्च को वरिष्ठ पत्रकार शरद प्रधान की अध्यक्षता मे हुई चुनाव समिति की मीटिंग मे चुनाव से संबंधित अहम फैसले लेते हुए कहा गया है कि, मतदान की पूरी प्रक्रिया की वीडियोग्राफी कराई जाएगी। 21 मार्च को होने वाले मतदान में बिना मान्यता कार्ड वाले व्यक्ति का प्रवेश वर्जित कर दिया गया है,वसाथ ही मतदाताओं को सख्त हिदायत दी गई है कि वो अपने साथ किसी भी गैर मान्यता प्राप्त पत्रकार को लेकर न आए। मतदान के दौरान मतदाता को मोबाइल मत कक्ष तक ले जाने की इजाजत नहीं होगी।

सार्वजनिक स्थान पर नहीं लगवा सकते हैं पोस्टर

पत्रकारों के इस चुनाव मे अपनी किस्मत आजमा रहे सभी उम्मीदवारों के लिए चुनाव आचार संहिता का सख्ती से पालन करने की चेतावनी देते हुए कहा गया है कि सोशल मीडिया पर कोई आपत्तिजनक पोस्ट न डाले और सार्वजनिक स्थान पर पोस्टर होर्डिंग बैनर न लगाए। चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन करने वाले पर सख्त कार्यवाही किए जाने की बात भी चुनाव समिति की तरफ से कही गई है। 21 मार्च को 23 पदों के लिए होने वाले चुनाव को बाधा रहित निष्पक्ष शांतिपूर्ण वातावरण मे करने के लिए 5 सदस्य चुनाव समिति का गठन किया गया है जिसमे वरिष्ठ पत्रकार शरद प्रधान के अलावा प्रिंस मिश्रा, विजय उपाध्याय, टीबी सिंह सुश्री नायला किदवई और सुल्तान शाकिर हाशमी को जगह दी गई है, पर्यवेक्षक के तौर पर वरिष्ठ पत्रकार सुरेश बहादुर सिंह को जिम्मेदारी दी गई है।

Leave a Reply