कोरोना की स्वदेशी दवा राष्ट्र को समर्पित : रक्षा मंत्री ने स्वास्थ्य मंत्री को सौंपी डीआरडीओ द्वारा निर्मित 2-डीजी

नई दिल्ली। आज रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के द्वारा डीआरडीओ की ओर से तैयार की गई कोरोना वैक्सीन 2DG स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन को दी। जिसके बाद स्वास्थ्य मंत्री ने इसे एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया को सौंपा। आज यह दवा रिलीज हुई है। यह भारत की पहली पूर्ण स्वदेशी वैक्सीन हो सकती है, जो कोरोना संकट से निपटने के लिए बनाई गई है।

कोरोना से निपटने में मिलेगी मदद

कहा जा रहा है कि इस वैक्सीन के जरिए कोरोना से रिकवरी जल्दी होगी और ऑक्सीजन पर निर्भरता कम रहेगी। डॉ. हर्षवर्धन के द्वारा कहा गया कि ‘इस दवा से सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि आने वाले दिनों में पूरी दुनिया में कोरोना से निपटने में मदद मिलेगी। मैं डीआरडीओ के वैज्ञानिकों को इसके लिए शुभकामनाएं और धन्यवाद देता हूं।’

कोरोना से बचाव के लिए अहम

यह वैक्सीन अगले सप्ताह से भारत में मिलने लगेगी। पहले बैच में इस वैक्सीन की 10,000 डोज उपलब्ध होगी। बता दें कि पिछले साल से रेमडेसिविर समेत कई दवाएं कोरोना से रोकथाम के लिए अहम थी, लेकिन 2-DG ऐसी पहली दवा है, जो कोरोना से बचाव के लिए अहम है।

इमर्जेंसी में इस्तेमाल करने की मंजूरी

ड्रग्स कंट्रोलर ऑफ इंडिया ने इस वैक्सीन को कोरोना मरीजों पर इमर्जेंसी में इस्तेमाल करने की मंजूरी दी है। कहा जा रहा है कि इस दवा के इस्तेमाल से ऑक्सीजन की जरूरत कम हो सकेगी। इसलिए इस दवा को अहम माना जा रहा है।

Leave a Reply