चीन की गंदी मानसिकता

#कोरोना का कहर आगे बढ़ते हुए दिन के साथ खौफनाक होता जा रहा है। सम्पूर्ण विश्व इस महामारी से जूझ रहा है। इतने कठिन समय में भी चीन, पाकिस्तान और नेपाल इस वैश्विक महामारी से लड़कर भारत के खिलाफ अत्यन्त खतरनाक साजिश रच रहे हैं।

खुफिया रिपोर्ट के अनुसार चीन ने पाकिस्तानी सेना के साथ मिलकर जैविक हथियारों पर गोपनीय समझौता किया है। जैविक युद्ध क्षमता विस्तार में घातक संक्रामक एजेंट एंथे्रक्स सहित कई अन्य खतरनाक जैविक हथियारों को शामिल किया है।

चीन भारत के खिलाफ अपनी कुटिल मानसिकता से बाहर नहीं रहा। वह अपनी विस्तारवादी नीतियों के बल पर वैश्विक सरगना बनना चाह रहा है। यही वजह है कि चीन दक्षिण एशिया में भारत के खिलाफ मजबूत संघटन बनाने के उद्देश्य से पाकिस्तान और नेपाल को भारत के प्रति जहर की घुट्टी पिला रहा है।

एक तरफ पाकिस्तान के साथ मिलकर भारत की भूमि हड़प रहा है वहीं दूसरी तरफ अब एंथे्रक्स द्वारा हमला करने की चाहत में पाकिस्तानी सेना के साथ गुप्त समझौता कर रहा है। पूरे विश्व को कोरोना का वंश देने के बाद अब चीन की इस कुटिल चाल से सभी स्तब्ध हैं।

सख्त कदम जरूरी

कोरोना वायरस का जन्मदाता वुहान इंस्टीट्यूट ऑफ बायोलाजी अब पाकिस्तानी सेना कीडिफेंस साइंसेज एण्ड टेक्रोलाजी आर्गनाइजेशनके साथ गोपनीय समझौते ने चीन और पाकिस्तान के गठजोड ऩे विश्व के सामने अपनी गंदी मानसिकता का प्रदर्शन ही किया है।

इसके साथ ही नेपाल को उकसाकर भारतीय क्षेत्र पर दावा ठोक दिया है। चीन की गोद में बैठकर पाकिस्तान और नेपाल भारत विरोध में इतने अन्धे हो गये हैं कि उन्हें चीन की चालाकी नजर ही नहीं रही है।

चीन की चालबाजी में यह दोनों देश अपने देशवासियों के हित भी भूल गये हैं। विश्व द्वारा घेरेबंदी किये जाने के बावजूद चीन अपनी कुत्सित नीति को नहीं छोड़ रहा है। चूंकि भारत दक्षिण एशिया में मजबूती के साथ उभरता देश बन रहा है। इसलिए चीन इस अकाट्य सत्य को बर्दाश्त नहीं कर पा रहा है।

दुनिया के निशाने पर चीन

वह बारबार हमारे स्वाभिमान को चुनौती दे रहा है। सीमा पर हालात अभी भी विकट हैं। अब तक की बातचीत में चीन की मंशा साफ नहीं हो पाई है और ऐसा लगता है कि वो इस मामले को लंबा खींचकर वहां अपनी सैन्य ताकत को बढ़ाना चाहता है।

नेपाल की ओली सरकार भी इमरान खान सरकार की भांति चीन के इशारे पर चल रही है। भारत को पीड़ा देने के क्रम में ओली कोई भी मौका नहीं चूक रहे हैं। सीमा विवाद श्रीरामजन्मभूमि विवाद अब ताजे घटनाक्रम में पूर्वी चम्पारण में भारतनेपाल सीमा पर घास काटने गयी एक महिला उसके बच्चे को नेपाल पुलिस ने बंधक बना लिया और हवाई फायरिंग की।

इससे सीमा पर तनाव बढ़ गया। यह समझ से परे है कि नेपाल पुलिस ने फायरिंग क्यों किया।