मैप रीडिंग की डिजिटल ट्रेनिंग : DGNCC ट्रेनिंग ऍप वर्जन 2.0 लॉन्च

अब हिंदी में भी कैडेट्स ले सकते हैं जानकारी

नई दिल्ली। राष्ट्रीय कैडेट कोर यानी एनसीसी के कैडेट्स को ट्रेनिंग देने के लिए मोबाइल प्रशिक्षण एप वर्जन 2.0 की शुरुआत की गई है। यह एप कोविड-19 महामारी की स्थिति के दौरान एनसीसी कैडेटों को देशव्यापी ऑनलाइन प्रशिक्षण आयोजित करने में सहायता करेगा। इसका उद्देश्य एनसीसी से संबंधित बुनियादी जानकारी और संपूर्ण प्रशिक्षण सामग्री (पाठ्यक्रम, सारांश, प्रशिक्षण वीडियो, अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न) को एक मंच पर उपलब्ध कराना है। यह एनसीसी कैडेटों को प्रशिक्षण सामग्री तक आसान पहुंच प्रदान करता है और महामारी के दौरान प्रशिक्षण देने में सहायता करता है।

सेटेलाइट इमेजरी और जीआईएस आधारित मैपिंग की ट्रेनिंग

रक्षा सचिव डॉ. अजय कुमार ने बताया कि, डिजिटल माध्यम से सभी कैडेट्स को इनपुट मिल सकेंगे। ऐसे कैडेट्स की पहले मैप रीडिंग की ट्रेनिंग होती थी, अब उसके साथ-साथ उन्हें सेटेलाइट इमेजरी और जीआईएस आधारित मैपिंग का प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसके लिए इनपुट इसरो के एनआरएससी से मिलेंगे, जो हमारे ट्रेनरों को पहले ट्रेन करेंगे यानि पहले एनओएस ट्रेन होंगे और फिर वो एनसीसी कैडेट्स को ट्रेन करेंगे।

कोविड काल में एनसीसी का योगदान

वहीं कोविड काल में एनसीसी के योगदान पर उन्होंने कहा कि देश भर में हमारे कैडेट्स सेकेंड लाइन ऑफ डिफेंस के तौर पर काम कर रहे हैं। कई कैडेट्स ने बहुत सारे हेल्प सेंटर और हेल्प लाइन बनाई है, जहां पर लोगों को अस्पताल में बेड, दवा ऑक्सीजन आदि की उपलब्धता के बारे में जानकारी दी जा रही है। कुछ कैडेट्स ने तो ऑक्सीजन सिलेंडर पहुंचाने का भी काम किया है।

अगस्त में DGNCC मोबाइल एप वर्जन 1.0 हुआ था लॉन्च

एप के बारे में और जानकारी देते हुए एनसीसी के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल तरुण कुमार आइच ने कहा कि, मार्च डिजिटल माध्यम का उपयोग करते हुए एनसीसी कैडेटों को प्रशिक्षण देने के लिए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 27 अगस्त, 2020 को डीजी एनसीसी मोबाइल एप वर्जन 1.0 को शुरू किया था। एप के कामकाज पर नियमित प्रतिक्रिया प्राप्त की गई थी, जिसके आधार पर इसे कैडेटों के लिए और अधिक उपयोगी बनाने के लिए वर्जन 2.0 में अपग्रेड किया गया।

दोनों भाषाओं में एप करेगा काम

उन्होंने आगे कहा कि डीजी एनसीसी मोबाइल प्रशिक्षण एप वर्जन 2.0 दोनों भाषाओं (हिंदी और अंग्रेजी) में होगा। इस एप पर नेविगेशन में आसानी के लिए नए पेज भी शामिल किए गए हैं। इसके अलावा सारांश और हिंदी में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न भी जोड़े गए हैं। कक्षाओं को और अधिक रोचक बनाने के लिए 130 प्रशिक्षण वीडियो भी शामिल किए गए हैं, जबकि पहले केवल 95 वीडियो थे। वहीं एक सवाल विकल्प को शामिल करके एप को आपसी संवादात्मक बनाया गया है। एक कैडेट इस विकल्प का उपयोग करके प्रशिक्षण पाठ्यक्रम से संबंधित अपने सवाल कर सकता है और योग्य प्रशिक्षकों का एक पैनल इस सवाल का जवाब देगा।

Leave a Reply