डिप्रेशन एक बार फिर बना शिकारी, युवक की मौत

घाटे की ऐसी मार लगाया मौत को गले

लखनऊ। डिप्रेशन आज के दौर में सबसे ज्यादा लोगों को मौत की ओर ढकेल रहा है। ऐसी ही एक घटना मलिहाबाद थाना क्षेत्र में हुई जहां एक युवक ने डिप्रेशन में आकर खुदखुसी कर ली। जिसकी जानकारी मिलते ही पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

कारोबार में हुए घाटे से हुआ डिप्रेशन का शिकार

मलिहाबाद इलाके के अमानीगंज गाँव का रहना वाला 35 वर्षीय अंकित निगम मलिहाबाद में चोकर चुनी और एक अन्य दुकान चलाता था। मिली जानकारी के मुताबिक अंकित को कारोबार में घाटा हो रहा था। जिसके कारण वह परेशान रहने लगा। वह मानसिक रूप से इतना दुखी रहने लगा कि डिप्रेशन का शिकार ही गया। इसी वजह से गुरुवार शाम मलिहाबाद रेलवे स्टेशन पर पहुंच कर रेल के आगे कूदकर अपनी जान दे दी।

मृतक के पिता ने कहा कोई वजह नही

मृतक के पिता अशोक निगम ने कहा कि बेटे के इस कदम की कोई वजह नहीं है। उन्होंने कहा कि उसकी शादी 2 साल पहले हुई थी, उसकी एक बेटी भी है जिसका नाम आरवी है। आगे उन्होंने कहा कि कारोबार में होने के कारण वह बहुत परेशान और मायूस रहता था। उनका कहना कि, उसे बहुत समझाया था लेकिन उसके बावजूद उसने यह कदम उठा लिया और हमारी बात नही मानी

मौत की खबर से घर मे मातम

जैसे ही मौत की खबर फैली जीआरपी पुलिस और थाना मलिहाबाद की पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने शव को जब्त कर पोस्टपार्टम के लिए भेज दिया। परिवार को जब इस बात की खबर मिली तो उनके घर में मातम छा गया।

Leave a Reply