कालाबाजारी पर रोकथाम के लिए तैयार लगन रणनीति

कोरोना वायरस के चलते प्रदेश में 21 दिन के लॉकडाउन की घोषणा के बाद खाने पीने के सामान पर कालाबाजारी की खबरें आम होने के बाद सिटी मजिस्ट्रेट सत्येंद्र सिंह ने कालाबाजारी रोकने के लिए मंडी समिति के पदाधिकारियों के साथ बैठक कर कालाबाजारी पर रोकथाम लगाने की रणनीति तैयार की है।

इस दौरान कृषि उत्पादन मंडी समिति के महामंत्री गिरीश अग्रवाल सहित समिति के कार्यकर्ता वह व्यापारी मौजूद रहे। महामंत्री गिरीश अग्रवाल ने बताया कि किसी भी कीमत पर लॉकडाउन के चलते कालाबाजारी नहीं होने दी जाएगी। बताया कि प्रशासनिक अधिकारियों सहित व्यापारियों ने फैसला लिया है कि फुटकर में अब माल नहीं बेचा जाएगा।

केवल उन व्यापारियों को माल दिया जाएगा जो व्यापारी अपने इलाके में खाद्य पदार्थों की आपूर्ति कर सकेंगे। हर सामान के रेट निर्धारित कर दिए गए हैं अगर रेट से अधिक कीमत लेकर किसी भी दुकानदार ने सामान बेचने की कोशिश की तो उसके खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी।