CoronaVirus effect: इंटरनेट स्पीड पर भारी पड़ रहा वर्क फ्रॉम होम, स्पीड में आई बड़ी कमी

CoronaVirus effect: कोरोना वायरस महामारी के संकट से निपटने के लिए देशव्यापी लॉकडाउन जारी है। इसका सबसे ज्यादा असर व्यावसायिक गतिविधियों और कारोबारी जगत पर पड़ रहा है। हालांंकि अधिकांश जगह अधिकारी-कर्मचारी वर्ग अपने-अपने घरों से ऑफिस के काम कर रहे हैं। वर्क फ्रॉम होम के कारण पिछले कुछ समय में इंटरनेट स्पीड पर बड़ा असर पड़ा है।

ग्लोबल इंटरनेट स्पीड का रिकॉर्ड रखने वाली कंपनी ओक्ला ने इस वर्ष मार्च के लिए जो स्पीडटेस्ट ग्लोबल इंडेक्स जारी किया है, उसके मुताबिक फिक्स्ड ब्रॉडबैंड स्पीड में काफी बड़े पैमाने पर कमी आई है। इसके साथ ही औसत मोबाइल डाउनलोड स्पीड भी 1.68 एमबीपीएस घट गई है। कंपनी के मुताबिक पिछले महीने की फिक्स्ड ब्रॉडबैंड स्पीड के लिहाज से भारत दो पायदान खिसककर 71वें स्थान पर चला गया है। वहीं, मोबाइल ब्रॉडबैंड के मामले में भी भारत दो पायदान पिछड़कर 130वें स्थान पर चला गया है।

इंटरनेट स्पीड की कमी को लेकर कंपनी के सीईओ डग सटल्स का कहना है कि भारत में इस वर्ष फरवरी से ही इंटरनेट स्पीड में कमी दिखाई दे रही है। इस वर्ष जनवरी में औसत फिक्स्ड ब्रॉडबैंड डाउनलोड स्पीड 41.48 एमबीपीएस थी, जो फरवरी में 39.65 एमबीपीएस और मार्च में 35.98 एमबीपीएस रह गई। उन्होंने बताया कि जहां तक औसत मोबाइल डाउनलोड स्पीड का सवाल है, तो यह फरवरी के 11.83 एमबीपीएस से घटकर मार्च में 10.15 एमबीपीएस रह गई।