‘परिवारवाद’ से ‘समूहवाद’ पर पहुँची कांग्रेस

पीसी चाको ने दिया इस्तीफा, लगाया आरोप

नई दिल्ली।
 विधानसभा चुनाव नजदीक आते ही केरल में भी राजनीतिक समीकरण बदलने लगे हैं। कांग्रेस को केरल में तगड़ा झटका लगा है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पीसी चाको ने इस्तीफे की घोषणा कर दी है। उन्होंने अपना इस्तीफा पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को भेज दिया है। चाको ने पार्टी के शीर्ष नेताओं पर ‘समूहवाद’ का आरोप लगाया है।

केरल कांग्रेस के साथ काम करना मुश्किल
कांग्रेस से इस्तीफा देने के बाद पीसी चाको ने कहा कि, ‘मैंने कांग्रेस पार्टी छोड़ दी है। मैं पिछले कई दिनों से इस फैसले पर विचार-विमर्श कर रहा था।  केरल कांग्रेस के साथ काम करना मुश्किल है। मैं केरल से आता हूं, जहां कोई कांग्रेस पार्टी नहीं है। यहां सिर्फ दो पार्टियां हैं- कांग्रेस (आई) और कांग्रेस (ए) जो केरल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के तौर पर काम कर रही हैं।’

पार्टी पर समूहवाद का लगाया आरोप
उन्होंने यह भी कहा कि केरल एक महत्वपूर्ण चुनाव का सामना करने जा रहा है। लोग चाहते हैं कि कांग्रेस वापस आए, लेकिन कांग्रेस के शीर्ष नेताओं द्वारा समूहवाद फैलाया जा रहा है। पीसी चाको कांग्रेस के बड़े नेता माने जाते हैं और उनकी केरल में मजबूत पकड़ मानी जाती है। केरल में चुनाव का समय आ गया है। ऐसे में चाको का इस्तीफा देना कांग्रेस के लिए बड़े नुकसान माना जा रहा है।

Leave a Reply