बजट भाषण छोटा रखना चाहती थी लेकिन आखिर में अपना ही रिकार्ड तोड़ दिया: सीतारमण

अमर भारती : वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को हल्के फुल्के अंदाज में कहा कि वह अपना बजट भाषण छोटा रखना चाहती थी लेकिन आखिर में लंबे बजट भाषण के मामले में वह अपने ही रिकार्ड को तोड़ बैठी।  सीतारमण ने शनिवार को लोकसभा में 2020- 21 को बजट भाषण पेश करते हुये 161 मिनट के बजट भाषण का रिकार्ड बनाया। उन्होंने पिछले साल जुलाई के अपने ही बजट भाषण के रिकार्ड को तोड़ा है।

मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला पूर्ण बजट पेश करते हुये जुलाई 2019 में सीतारमण ने दो घंटे 17 मिनट का भाषण पढ़ा था।सीतारमण ने यहां उद्योग जगत के एक कार्यक्रम में कहा, ‘‘ … केवल मेरा भाषण ही नहीं जो काफी लंबा था इसके अलावा मेरी तरफ से मंत्रालय के साथ शिकवा शिकायत भी चल रही थी। मैं हर किसी से यही कह रही थी कि इस साल का भाषण छोटा होना चाहिये। लेकिन किसी ने यह साजिश रच डाली कि… नहीं आपको इसे ही लंबा भाषण करना होगा।’’