बीजेपी ने आप पर उठाए सवाल, मनीष सिसोदिया बने ठाल

अमर भारती : दिल्ली विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी और आम आदमी पार्टी के बीच बड़ी जंग चल रही है। मंगलवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने एक वीडियो जारी किया था, जिसमें उन्होंने बीजेपी सांसदों के द्वारा दिल्ली के सरकारी स्कूलों की ‘सच्चाई’ बताई थी। बीजेपी के दावों को मनीष सिसोदिया ने झूठा बताया और ट्वीट किया कि जिन स्कूलों का वीडियो जारी किया है वो बंद हो चुके हैं। सरकारी स्कूल के मसले पर दोनों पार्टियों में जंग चल रही है।

अमित शाह ने लगाया था आरोप

दिल्ली चुनाव में बीजेपी के लिए मोर्चा संभाले हुए अमित शाह ने बुधवार को एक वीडियो जारी कर दिल्ली सरकार पर बड़ा आरोप लगाया। अमित शाह के वीडियो में दिल्ली के सभी सांसदों के द्वारा सरकारी स्कूलों का दौरा किया गया, जिसमें प्रवेश शर्मा, विजय गोयल (RS), मीनाक्षी लेखी समेत अन्य सांसद थे। इस वीडियो में दिखाया गया कि स्कूलों की छत टूटी हुई है, कहीं पर शिक्षक नहीं आ रहे हैं।

मनीष सिसोदिया ने किया पर्दाफाश

अमित शाह के ट्वीट के बाद बीजेपी के अन्य नेताओं ने भी AAP को घेरा। AAP की ओर से मोर्चा संभालने के लिए मनीष सिसोदिया आए और उन्होंने एक-एक कर वीडियो की सच्चाई बताई। मनीष सिसोदिया ने ट्वीट में लिखा, ‘अमित शाह जी! आपके सांसद गौतम गंभीर जिस स्कूल का वीडियो बनाकर लाए और आपसे ट्वीट भी करवा लिए उसका सच ये है – उसके गेट पर ही लिखा है कि नई बिल्डिंग बनाने के लिए उस स्कूल को छह महीने पहले बाजू के स्कूल में शिफ्ट कर दिया गया है.’

सिसोदिया ने अगले ट्वीट में लिखा, ‘सर आपके सांसद का झूठ उनके वीडियो में ही रिकॉर्ड है। जरा पूछिए तो सही उनसे कि आपको दिल्ली के स्कूलों के बारे में ऐसी गलत जानकारी उन्होंने काहे दी? और आपसे ट्वीट भी करवा दी। हद है.’

प्रवेश शर्मा के वीडियो पर भी सवाल

मनीष सिसोदिया की तरफ से दूसरे वीडियो में बीजेपी सांसद प्रवेश शर्मा के ट्वीट पर भी सवाल खड़े किए गए। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री ने लिखा कि आपके एक अन्य सांसद प्रवेश वर्मा ने भी जिस स्कूल की तस्वीरें डालीं। उस स्कूल की एक झलक आप भी देख लीजिए कि ये अंदर से कितना हरा-भरा है। आपके सांसद ने साइड में बंद पड़े एक कमरे की तस्वीरें आपको दिखाकर आपसे दिल्ली के शिक्षकों और छात्रों का इतना बड़ा अपमान करा लिया।

गौरतलब है कि दिल्ली सरकार की ओर से लगातार सरकारी स्कूलों को चमकाने का दावा किया जाता है। AAP की ओर से लगातार वीडियो जारी कर सरकारी स्कूल में नई सुविधाएं, बेहतरीन शिक्षा और छात्रों के भविष्य को संवारने का दावा किया गया है।

इतना ही नहीं अरविंद केजरीवाल दावा करते हैं कि कई अन्य राज्य भी उनकी इस शिक्षा नीति की स्टडी कर चुके हैं। बुधवार को भी केजरीवाल ने ट्वीट कर लिखा कि जिन बीजेपी के मंत्रियों ने महाराष्ट्र में सरकारी स्कूलों को बंद करवाया, वही दिल्ली में प्रचार कर रहे हैं।