”जेंडर न्यूट्रल“ के चलते किया गया किक्रेट नियमों में बड़ा बदलाव, बैट्समैन की जगह होगा बैटर शब्द को प्रयोग

Representational image. (File)

नई दिल्ली। क्रिकेट जगत में बल्लेबाजों के लिए हमेशा से ही बैट्समैन शब्द का प्रयोग किया गया है लेकिन अब क्रिकेट के इस नियम में बड़ा बदलाव देखने को मिला है। मैरिलबोन क्रिकेट क्लब(MCC) ने बुधवार इस बात की घोषणा कि, अबसे महिला और पुरूष क्रिकेटरों के लिए “बैट्समैन” के बजाय “बैटर” शब्द का इस्तेमाल किया जाएगा। बता दें कि एमसीसी (MCC) समिति द्वारा इस नियम को मंजूरी दी गई है। इसके पहले कल्ब के नियमों की विशेष समिति ने इस बात पर चर्चा की थी जिसके बाद ही सभी अधिकारियों की इस बात पर सहमति बनने के बाद इन नियमों में बदलाव किया गया है।

महिला और पुरूष दोनों को मिलेगा बराबरी को दर्जा

आधुनिक समय में क्रिकेट के इस बड़े बदलाव के वजह से, बल्लेबाजी करने वाला प्लेयर चाहे महिला हो या पुरूष यह दोनों के एक समान होने को बढ़ावा देता है। एमसीसी समिति का यह भी कहना है, कि इससे क्रिकेट के दर्जे को और बेहतर करने में मदद मिलेगी। महिला क्रिकेट ने दुनियाभर में हर स्तर पर अत्यंत प्रगति की है, इसलिए उन्हें क्रिकेट खेलने के लिए प्रोत्साहन स्वरूप और “जेंडर न्यूट्रल” शब्दों को बढ़ावा देना होगा।

“बैट्समैन“ शब्द को पूरी तरह हटाया गया

बैटर शब्द के प्रयोग के साथ ही एमसीसी के क्रिकेट कल्ब ने बैट्समैन शब्द के इस्तेमाल को पूर्ण रुप से बंद कर दिया है। बता दें कि कई संचालन संस्थायें और मीडिया संस्थायें पहले से ही बैटर शब्द का प्रयोग करती आ रही है। एमसीसी का क्रिकेट जगत में यह बड़ा बदलाव तुरंत प्रभाव से लागू कर दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.