कहीं आप की रसोई में नकली आम तो नहीं

नई दिल्ली। आम को फलों का राजा कहा जाता है। आम हर किसी के मन को भाता है। आम में फाइबर, विटामिन A,C और कई प्रकार के पोषक तत्व पाए जाते है जो हमारे शरीर के लिए फायदेमंद होते हैं, लेकिन क्या आपको पता है कि बाजारों में बिकने वाले कुछ आमों को जहरीले केमिकल से पकाया जाता है, जो आपकी सेहत के लिए घातक है। ऐसे में आपको यह देखना होगा कि आप जो आम खा रहे है कहीं वो केमिकल से तो नहीं पकाया गया है।

कार्बाइड से पका आम सेहत के लिए हानिकारक

बाजारों में आम की कमी और लोगों की मांग ज्यादा होने के कारण व्यापारी आमों को कार्बाइड की सहायता से पकाकर बेच रहे है। कृत्रिम रूप से पकाने में रसायन कार्बाइड का प्रयोग FSSAI द्वारा प्रतिबंध है। बता दें कि कार्बाइड तंत्रिका तंत्र को प्रभावित करती है, जिसकी वजह से नींद न आना, चक्कर आना और याददाश्त कमजोर जैसी समस्या उत्पन्न होती है।

नकली तरीके से पकाए गए आमों की ऐसे करें पहचान

अब सवाल यह उठता है कि आखिरकार पता कैसे चलेगा कि हम जो आम खरीद रहे है वो नकली है या नेचुरल? यह जानने के लिए सबसे पहले एक बाल्टी में पानी लें उसमें आम को डाल दें। अगर आम डूब जाते है तो यह नेचुरल तरीके से पकाए गए है, अगर तैरते है तो रसायन की सहायता से पकाए गए है। नेचुरल तरीके से पके आमों में रस ज्यादा होता है लेकिन नकली तरीके से पकाए गए आम में कोई स्वाद नहीं होता है।

Leave a Reply