आंध्र प्रदेश: तबलीगी जमात से लौटने वालों के संपर्क में आने से 40 बच्चे कोरोना पॉजिटिव हो गए

आंध्र प्रदेश में तीन से 17 साल की उम्र वाले करीब 40 बच्चे कोरोना पॉजिटिव हैं. ये डेटा 15 अप्रैल की शाम तक का है। सभी बच्चों का ट्रीटमेंट किया जा रहा है। ‘इंडियन एक्सप्रेस’ की रिपोर्ट के मुताबिक, ये बच्चे निज़ामुद्दीन की तबलीगी जमात में हिस्सा लेने वालों के परिवार से हैं। अधिकारियों का कहना है कि मार्च में जमात में शामिल होकर लौटने वालों के कॉन्टैक्ट में ये बच्चे आए हैं।

एक अधिकारी ने बताया-

‘जमात से लौटने वालों को ये नहीं पता था कि वो कोरोना वायरस से इन्फेक्टेड हैं। अनजाने में उन्होंने ये वायरस परिवार के बाकी लोगों में फैला दिया. इनमें बहुत से बच्चे भी हैं’। इसके अलावा कुल मरीज़ों में से 124 महिलाएं हैं। हेल्थ डिपार्टमेंट के अधिकारियों ने बताया कि कई मामलों में तो एक ही व्यक्ति से परिवार की सभी महिलाएं कोरोना पॉजिटिव हुई हैं। इसके अलावा करीब 36 से ज्यादा मरीज़ ऐसे हैं, जिनकी उम्र 60 या उससे ज्यादा है।

कैसे हैं प्रदेश के हालात

आंध्र प्रदेश के हेल्थ डिपार्टमेंट की बुलेटिन के मुताबिक, 15 अप्रैल तक राज्य में कोरोना के कुल 525 कन्फर्म मामले थे. 20 रिकवर हो चुके हैं, 14 की मौत हो गई है. वहीं 491 एक्टिव मामले हैं। कोरोना के मामले लगातार बढ़ता देख, आंध्र प्रदेश की सरकार ने टेस्टिंग स्पीड को डबल करने का फैसला किया है। अब एक दिन में करीब 4000 लोगों का टेस्ट होगा। इसके अलावा क्वारंटीन सेंटर से लौटने वाले परिवार को भी सरकार 2000 रुपए देगी।