सपाई नेता सहित आरोपियों के खिलाफ होगी एनएसए के तहत कार्रवाई

हाथरस। महिलाओं और बेटियों से दरिंदगी की खबर को लेकर हाथरस फिर एक बार चर्चाओं में है। जहाँ अपनी बेटी की इज्जत बचाने की कोशिश में एक पिता को अपनी जान गंवानी पड़ी। बेटी का वीडियो भी वायरल हो रहा है, जहाँ वो अपने पिता की मौत के लिए कानून से इंसाफ की गुहार लगा रही है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आरोपियों के विरूद्ध एनएसए के तहत कार्रवाई करने के निर्देश दिये हैं।

यह है पूरा मामला
खबर हाथरस के सासनी थाना क्षेत्र के नौजरपुर गांव की है। जहां एक पिता को गोली मार दी गई। गोली मारने वाले आरोपी का नाम गौरव शर्मा बताया जा रहा है, जिसे साल 2018 में छेड़खानी के आरोप में सजा भी हुई थी। लेकिन, उसे जमानत मिल गई थी। आरोपी और पीड़िता के पिता के बीच बहस हुई थी। जिसके बाद आरोपी ने लड़की के पिता को गोली मार दी। अस्पताल ले जाते वक्त रास्ते में उनकी मौत हो गई।
16 जुलाई 2018 को आरोपी गौरव के खिलाफ घर में घुसकर छेड़खानी करने का आरोप लगाते हुए पीड़िता के पिता ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी। आरोपी 15 दिन जेल में भी रहा था। वह पीड़िता और उसके पिता पर केस वापस लेने का दबाव बना रहा था। पुलिस ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

खेत में बरसाई गोलियां
पुलिस के मुताबिक, गौरव अपने तीन साथियों के साथ अम्बरीष के खेत पर पहुँचा। उस समय देर शाम का वक्त था। उस समय पीड़िता के पिता अम्बरीष अपने खेत में आलू की खुदाई कर रहे थे। चारों आरोपियों ने उन पर कई राउंड फायर किये। गोलीकाण्ड में अम्बरीष घायल हो गए। गोली की आवाज सुनकर खेत में काम कर रहे मजदूरों में भगदड़ मच गई। अस्पताल में अम्बरीष को अस्पताल ले जाते समय ही रास्ते में उनकी मौत हो गई।

आरोपी निकला समाजवादी पार्टी का नेता
जिस गौरव शर्मा का नाम पीड़िता ने लिया, वह इस हत्याकांड का मुख्य आरोपी है। खबर ये भी सामने आ रही है कि वो समाजवादी पार्टी का कार्यकर्ता है। खास बात यह है कि इस घटना को लेकर समाजवादी पार्टी ने न्याय की सख्त मांग की है। ताकि, पीड़िता और उसके मृतक पिता को इंसाफ मिल सके।

कुल छः लोगों के खिलाफ मामला दर्ज
पुलिस अधीक्षक हाथरस के अनुसार, गौरव शर्मा, रोहतास शर्मा, निखिल शर्मा, ललित शर्मा व दो अन्य लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

एनएसए के तहत होगी कार्रवाई
यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाथरस कांड के आरोपियों पर एनएसए के तहत कार्रवाई करने के निर्देश अधिकारियों को दिये हैं।

Leave a Reply